करम की डाली बहाने के क्रम में ओबरा की तीन बच्ची डूबी, एक का शव बरामद, खोज बीन जारी

बरही । करम की डाली बहाने के क्रम में चौपारण प्रखंड के बच्छई पंचायत अंतर्गत ओबरा गांव की छः बच्चियों का बराकर नदी डूबने से अफरा तफरी मच गया. प्राप्त जानकारी के अनुसार बीते रात्रि सामूहिक करमा पूजा के बाद मंगलवार की सुबह करीब सवा आठ बजे गांव की बच्चियों का समूह डाली विसर्जन के लिए डेढ़ किमी दूर स्थित बराकर नदी पहुंची. जहां छः बच्ची करम की डाली विसर्जन के बाद नहाने लगी. इसी क्रम में गहरे पानी में जाने से सभी डूब गए. जिनमे पास ही में मछली मार रहे मछुआरों ने तीन को किसी प्रकार बचाया जबकि तीन अन्य का कुछ पता नहीं चल सका. इसकी सूचना तत्काल स्थानीय प्रशासन को दिया गया. जानकारी मिलते ही बरही एसडीओ पूनम कुजूर, एसडीपीओ नाजिर अख्तर और चौपारण थाना की टीम स्थानीय गोताखोर के साथ घटना स्थल पर पहुंची. काफी मशक्कत करने के बाद दिव्यांशु कुमारी (15) पिता सत्येंद्र यादव का शव बरामद हुआ. जिसे तत्काल पोस्टमार्टम के लिए हजारीबाग भेजा गया. जबकि समाचार लिखे जाने तक प्रेमा कुमारी पिता नारायण यादव और सपना कुमारी पिता सुरेंद्र यादव का शव ढूंढा जा रहा था. घटना से पूरा गांव शोक में डूब गया है. घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय विधायक गमछा और गंजी पर ही घटनास्थल पर गोताखोरों की टीम के साथ पहुंचे. शव बरामदगी के लिए अधिकारियो को निर्देश देते रहे. घटना से मर्माहत विधायक निहशब्द रहे. घटनास्थल पर जिप उपाध्यक्ष किसुन यादव, जिप सदस्य रवि शंकर अकेला, भाजपा जिला उपाध्यक्ष रमेश ठाकुर, सांसद प्रतिनिधि अर्जुन साहू, टीएसएस के केंद्रीय अध्यक्ष अरुण साहू, पूनम यादव आदि सहित कई स्थानीय जनप्रतिनिधि, समाजसेवी आदि सैकड़ो की संख्या में लोग पहुंचे थे.

This post has already been read 3584 times!

Sharing this

Related posts