एशियाई खेल: राजेश्वरी ने निशानेबाजी में जीता रजत, पिता ने दिलाया था भारत को स्वर्ण

नई दिल्ली: एशियन गेम्स 2023 में रविवार का दिन भारत के लिए अच्छा रहा. आखिरी खबर मिलने तक टीम इंडिया ने एक गोल्ड और दो सिल्वर मेडल जीत लिए थे. शूटिंग में भारत ने जीते गोल्ड और सिल्वर. भारत की राजेश्वरी कुमार, मनीषा खेर और प्रीति रजक ने महिला टीम इवेंट ट्रैप में रजत पदक जीता। दिलचस्प बात यह है कि राजेश्वरी की तरह उनके पिता रणधीर सिंह भी निशानेबाज रहे हैं और एक बार भारत के लिए स्वर्ण पदक भी जीत चुके हैं।

दरअसल, रणधीर सिंह एशिया ओलंपिक काउंसिल के कार्यकारी अध्यक्ष हैं और उनकी बेटी राजेश्वरी इस बार 2023 एशियाई खेलों में हिस्सा ले रही हैं. राजेश्वरी के पिता भी उनके साथ चीन में एशियाई खेलों में गए हैं। रणधीर सिंह एशियाई खेलों में निशानेबाजी में स्वर्ण पदक जीतने वाले पहले भारतीय हैं। उनकी बेटी भी अब उनके नक्शेकदम पर चल रही हैं. राजेश्वरी ने देश के लिए मेडल भी जीता है.

राजेश्वरी, मनीषा और प्रीति ने महिला टीम इवेंट ट्रैप में शानदार प्रदर्शन किया और रजत पदक हासिल किया। भारतीय एथलीट इस स्पर्धा में स्वर्ण जीतने की उम्मीद कर रहे थे, लेकिन उन्हें रजत से संतोष करना पड़ा। टीम इंडिया ने रविवार को शूटिंग में गोल्ड मेडल जीता. की चिन्नई, पृथ्वीराज टोंडिमान और जोरावर सिंह ने पुरुष टीम ट्रैप स्पर्धा में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया और स्वर्ण पदक जीता।

गौरतलब है कि भारतीय एथलीटों ने एशियाई खेलों में अब तक कुल 41 पदक जीते हैं, जिनमें 11 स्वर्ण, 16 रजत और 14 कांस्य पदक शामिल हैं। टीम इंडिया फिलहाल पदक तालिका में चौथे स्थान पर है. इस लिस्ट में चीन पहले नंबर पर है. चीन ने अब तक 222 पदक जीते हैं, जिनमें 116 स्वर्ण और 70 रजत पदक शामिल हैं। कोरिया ने कुल 30 स्वर्ण, 32 रजत और 56 कांस्य पदक (118 पदक) जीते।

This post has already been read 3009 times!

Sharing this

Related posts