उपायुक्त की अध्यक्षता में जिले के मोहनपुर प्रखंड अन्तर्ग बुढवाकुरा गांव के संथाली टोला में वनाधिकार विषयक शपथ कार्यक्रम का हुआ आयोजन

  • अबुआ वीर दिशोम वनाधिकार अभियान के तहत जंगल पर निर्भर रहने वालों को दिया जाएगा वनपट्टा: उपायुक्त
  • उपायुक्त ने साफ-सफाई, शौचालय के नियमित उपयोग के अलावा स्वच्छता के प्रति श्रम दान के लिए ग्रामीणों को किया जागरूक
  • मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना का लाभ लेकर आत्मनिर्भर और सशक्त समाज के निर्माण में करे सहयोग:उपायुक्त
  • शत प्रतिशत सुयोग्य लाभुकों को पेंशन, राशन के साथ आयुष्मान कार्ड योजना के लाभ से करें आच्छादित: उपायुक्त
  • जिले के सभी पंचायतों में आज 02 अक्टूबर को महात्मा गांधी की जयन्ती के अवसर पर वनाधिकार विषयक शपथ कार्यक्रम का किया गया आयोजन
  • हर घर जागरूकता के साथ सुपोषित समाज बनाने को हर संभव करे प्रयास: उपायुक्त
  • वोटर लिस्ट में नाम जोड़ने के अलावा मतदान के महत्व से उपायुक्त ने सभी को कराया अवगत
  • समाज को बेहतर दिशा देने के उद्देश्य से बेटियों को बनाए शिक्षित:उपायुक्त
  • जिला स्तर के विभिन्न विभागों के अधिकारियों ने संचालित योजनाओं की जानकारी और लाभ लेने के तरीकों से ग्रामीणों को कराया अवगत

Deoghar: उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी श्री विशाल सागर की अध्यक्षता में जिले के मोहनपुर प्रखंड के जमुनिया पंचायत अन्तर्ग बुढवाकुरा गांव के संथाली टोला में वनाधिकार विषयक शपथ कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान सर्वप्रथम उपायुक्त श्री विशाल सागर ने गांधी जयंती के अवसर पर बापू की तस्वीर पर माल्यर्पण कर उन्हें नमन किया।

इसके अलावे कार्यक्रम के दौरान उपायुक्त श्री विशाल सागर ने सभी को संबोधित करते हुए कहा कि आज गांधी जी के जयंती के अवसर पर हम सब एकत्रित हुए क्यो की राज्य सरकार की महत्वकांक्षी योजना अबुआ वीर दिशोम वनाधिकार अभियान के माध्यम से, जंगल में निवास करने वाले लोगों को वनपट्टा देने का कार्य किया जाएगा, जिससे उन्हें वन क्षेत्र में अधिकार प्राप्त हो सकेगा। साथ ही अक्टूबर से अबुआ वीर दिशोम वनाधिकार अभियान चलेगा। इस योजना के माध्यम से सरकार कैंप लगा कर लोगों को वनपट्टा देगी। अबुआ वीर दिशोम वनाधिकार अभियान को सशक्त और पारदर्शी बनाने के लिए वन क्षेत्र के अंतर्गत हर गांव में 03 से 18 अक्टूबर तक वनाधिकार समिति (एफआरसी) का गठन किया जाएगा, ताकि ऐसे लोगों की पहचान की जा सके जो अब भी इस अधिकार से वंचित हैं। इसके अलावा एफआरसी गठन के लिए जिला के सभी गांवों में तिथिवार ग्राम सभा आयोजित किए जाएंगे। जिसके पश्चात वनाधिकार 2006 के अंतर्गत वन क्षेत्र में निवास करनेवाले लोगों को उनके अधिकार से लाभान्वित किया जाएगा। आगे उपायुक्त ने अपने संबोधन में ग्राम सभा के महत्व और सभी की सहभागिता और इसकी आवश्यकता से अवगत कराया, ताकि ग्राम सभा के माध्यम से पंचायतों में और भी बेहतर तरीक़े से कार्यों को कराया जा सके।

वनाधिकार विषयक शपथ कार्यक्रम के दौरान उपायुक्त श्री विशाल सागर ने संथाली टोला में शेष बचे सुयोग्य लाभुकों प्रधानमंत्री आवास योजना अथवा अंबेडकर आवास योजना से लाभान्वित करने का निर्देश दिया। आगे उपायुक्त ने स्वच्छता, स्वास्थ्य, सही पोषण आहार, गर्भावस्था में बेहतर देखभाल, बच्चों को सही समय पर सही टीका आदि के प्रति जागरूक किया, ताकि स्वस्थ और बेहतर समाज का निर्माण किया जा सके। साथ ही उपायुक्त ने हरा राशन कार्ड, सर्वजन पेंशन योजना, आयुष्मान कार्ड से जोड़ने का निर्देश संबंधित प्रखंड विकास पदाधिकारी को दिया। वही ग्रामीणों से बातचीत करते हुए संबंधित प्रखंड विकास पदाधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि यदि कोई सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं के लाभ से वंचित है या फिर किसी प्रकार की समस्या आ रही हैं तो ऐसे मामलों का त्वरित गति से कार्यों का निष्पादन करें। इसके अलावे उपायुक्त ने ग्रामीणों को जानकारी देते हुए कहा कि राज्य सरकार के निर्देशानुसार 60 वर्ष से अधिक उम्र के योग्य लाभुकों को युनिवर्सल पेंशन योजना से जोड़ा जाना है। योजना की खास बात यह है कि अब 60 वर्ष से अधिक आयु के सभी वृद्धजनों को पेंशन योजना का लाभ प्राप्त होगा, बशर्ते आवेदक करदाता ना हो। गरीब, निःशक्त और निराश्रित जिनमें विधवा, एकल, परित्यक्त महिलाओं को भी पेंशन स्कीम से आच्छादित किया जाएगा। आगे उपायुक्त ने समाज को आत्मनिर्भर व सशक्त बनाने की दिशा में मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना से जुड़ी जानकारी देते हुए कहा कि ग्रामीण-शहरी क्षेत्रों के लोगों को रोजगार देने के लिए 25 लाख तक के लोन-ऋण का प्रावधान मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना के माध्यम से किया गया है, जिसमे 40% तक अनुदान भी राज्य सरकार द्वारा दिया जा रहा हैं। यह योजना अनुसूचित जनजाति, अनुसूचित जाति, अल्पसंख्यक वर्ग, पिछड़ा वर्ग, दिव्यांगजनों और सखीमंडल की दीदियों के लिए है। इस योजना के तहत बेरोजगार नौजवानों को यात्री परिवहन आदि के लिए वाहन खरीदने की सुविधा भी उपलब्‍ध कराई जा रही है। साथ ही इस योजना के तहत 50 हजार रुपये तक के लोन पर किसी गारंटी की जरूरत नहीं है। इसके लिए उम्र सीमा 18 वर्ष से 45 वर्ष तक निर्धारित की गई है। आवेदक के लिए जरूरी शर्त के तौर पर झारखंड का स्‍थायी निवासी होना आवश्‍यक है। साथ ही परिवार की वार्षिक आय 5 लाख रुपये से कम होनी चाहिए।

इसके अलावे उपायुक्त श्री विशाल सागर ने मतदाता पुनिरक्षण कार्यक्रम के अलावा वोटर लिस्ट में नाम जोड़ने व वोट के महत्व से ग्रामीणों को अवगत कराया। आगे उपायुक्त ने स्वच्छता पखवाड़ा के तहत नियमित शौचालय उपयोग को लेकर ग्रामीणों को जागरूक करते हुए कहा कि बाह्य शौच की वजह से अधिकतर बीमारियाँ फैलती है। इसलिए शौच हेतु हमेशा शौचालय का ही प्रयोग करें। इतना हीं नहीं स्वस्थ्य रहने हेतु आवश्यक है कि हम अपने जीवनशैली में स्वच्छता को स्थान दें व अपने आस-पड़ोस को स्वच्छ रखें। साथ हीं दूसरों को भी ऐसा करने के लिए प्रेरित करेें क्योंकि समाज में कभी भी कोई बदलाव किसी एक वजह से नहीं आया है। इसके लिए सभी का जनसहयेाग आपेक्षित है। ऐसे में आवश्यक है साफ-सफाई पर विशेष रूप से हम सभी ध्यान दे और अपने घरों के साथ आसपास के क्षेत्रों को भी स्वच्छ रखें।

उपायुक्त ने ग्राम सभा के माध्यम से सभी को शपथ दिलाया कि आज महात्मा गाँधी की जयन्ती के पावन अवसर पर हम सभी ग्रामवासी यह शपथ लेते है कि वन अधिकार अधिनियम, 2006 के द्वारा दिए गए अधिकार का उपयोग करते हुए ग्राम-स्तर पर वनाधिकार समिति का गठन / पुनर्गठन करेंगे तथा वन पर निर्भर लोगों और समुदायों को वनाधिकार पट्टा दिये जाने हेतु उनके दावा पर नियम के अनुसार अनुशंसा करेंगे।
हम सभी जल, जंगल और जमीन और इसके संसाधनों की रक्षा के लिए समर्पित और संगठित प्रयास करेंगे।

■ जिला स्तर के अधिकारियों ने विभिन्न योजनाओं की जानकारी से संथाली टोला के लोगों को कराया अवगत….
इसके अलावा कार्यक्रम के दौरान जिला कल्याण पदाधिकारी, जिला पंचायती राज पदाधिकारी, उप निर्वाचन पदाधिकारी द्वारा अपने-अपने विभागों द्वारा संचालित विभिन्न जानकारियों व जनकल्याणकारी योजनाओं से अवगत कराया गया। साथ ही योजनाओं से होने वाले लाभ के अलावा योजनाओं के लाभ लेने की प्रक्रिया से ग्रामीणों को अवगत कराया, ताकि आसानीपूर्वक अपनी आवश्यकताओं को देखते हुए लोग जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ ले सके।

इस दौरान कार्यक्रम में उपरोक्त के अलावे मुखिया श्रीमती अनिता टुड्डू, जिला कल्याण पदाधिकारी श्री दयानंद दुबे, जिला पंचायती राज पदाधिकारी श्री रणबीर सिंह, उप निर्वाचन पदाधिकारी श्री शैलेश कुमार सिंह, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी श्री रवि कुमार, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी श्रीमती रुन्नु मिश्रा, पेयजल स्वच्छता विभाग देवघर के कार्यपालक अभियंता, प्रखंड विकास पदाधिकारी श्री विवेक कुमार, अंचलाधिकारी श्री सुप्रिया भगत, सहायक जनसंपर्क पदाधिकारी रोहित कुमार विद्यार्थी, पंचायत सचिव, जनप्रतिनिधि व संबंधित विभाग के अधिकारी, कर्मी एवं ग्रामीण आदि उपस्थित थे।

This post has already been read 2401 times!

Sharing this

Related posts