इराकी विश्वविद्यालय के छात्रावास में आग लगने की दुखद घटना में कम से कम 14 लोगों की मौत हो गई

बगदाद: इराक के उत्तरी कुर्दिस्तान क्षेत्र में शुक्रवार को एक विश्वविद्यालय छात्रावास में आग लगने से कम से कम 14 लोगों की मौत हो गई. यह जानकारी स्थानीय अधिकारियों ने दी. स्थानीय कुर्द टेलीविजन चैनल रूडा ने इमारत के सामने अग्निशामकों के फुटेज प्रसारित किए, जिसमें सोरन विश्वविद्यालय के शैक्षणिक कर्मचारी और छात्र रहते हैं।
चैनल की रिपोर्ट के मुताबिक, शुरुआती जांच में पता चला है कि आग ‘इलेक्ट्रिकल शॉर्ट सर्किट’ की वजह से लगी थी। सरकारी समाचार एजेंसी आईएनए ने कहा कि स्थानीय स्वास्थ्य अधिकारियों ने 14 मौतों और 18 के घायल होने की पुष्टि की है। आईएनए ने नागरिक सुरक्षा के हवाले से बताया कि इमारत की तीसरी और चौथी मंजिल पर लगी आग पर काबू पा लिया गया है. स्वायत्त कुर्दिस्तान क्षेत्र के प्रधान मंत्री मसरूर बरज़ानी ने आग के कारणों की जांच की मांग की है।
इराक में आग लगने की घटनाएं आम हैं. वैसे तो ये घटनाएं किसी भी देश में हो सकती हैं, लेकिन ऐसे हादसों में जान गंवाने वालों की संख्या इराक में सबसे ज्यादा है. इस साल सितंबर में उत्तरी इराकी शहर काराकस में एक शादी के दौरान समारोह हॉल में आग लगने से लगभग 100 लोग मारे गए थे। घटना की जांच में पता चला कि इमारत में कोई आपातकालीन निकास नहीं था। जांच अधिकारियों का कहना है कि इमारत का निर्माण सुरक्षा मानदंडों की अनदेखी करके किया गया था।

This post has already been read 2657 times!

Sharing this

Related posts