‘इंजोत डहर’ व के.बी. जॉन प्रोडक्शन, मुम्बई के द्वारा 10 दिवसीय फिल्म मेकिंग वर्कशॉप रांची में।

Ranchi: झारखंड में पहली बार फिल्म निर्माण से जुड़ी बारीकियों से रूबरू कराने के उद्देश्य से एक वर्कशॉप का आयोजन हो रहा है। ‘इंजोत डहर’ नाम की संस्था के.बी. जॉन प्रोडक्शन, मुम्बई के साथ मिलकर इसका आयोजन करने जा रही है। यह वर्कशॉप सत्यभारती के ऑडिटोरियम, पुरूलिया रोड, रांची में आयोजित होगा, जो 26 अक्टूबर से 4 नवंबर 2023तक चलेगा। कार्यशाला का समापन समारोह अदन वाटिका, सहेरा रोड़ नामकोम में 4 नवंबर2023 को फिल्म स्क्रीनिंग, सम्मान समारोह एवं संगीत के रंगारंग कार्यक्रम ‘देशी टेकओवर’ से होगा। समापन समारोह में झारखंड फिल्म इंडस्ट्री के सम्मानित गणमान्य शख्सियतों को उल्लेखनीय योगदान के लिए सम्मानित भी किया जायेगा एवं झारखंड फिल्म इंडस्ट्री के मौजूदा चुनौतियों और समाधान पर परिचर्चा भी की जायेगी।
मुंबई के स्थापित फिल्म प्रोड्यूसर- निर्देशक के.बी. जॉन (जॉन ब्रेकमन्स केरकेट्टा) के सहयोग से इस कार्यशाला में प्रतिभागियों को स्क्रिप्ट राईटिंग, सिनेमेटोग्राफी, विडियोग्राफी, एडिटिंग, साउंड एवं विडियो मिक्सिंग, प्रोडक्शन, डिस्टरिब्यूशन, मार्केटिंग की सभी तकनीकी, प्रेक्टिकल/व्यवहारिक जानकारी दी जायेगी।
शिक्षा, स्वास्थ्य, नारी सशक्तिकरण, खेलकूद एंव स्किल डेवलपमेंट आदि के क्षेत्र में कार्य करने वाली सामाजिक संस्था  ‘इंजोत डहर’ का उद्देश्य झारखंड की प्रतिभाओं को फिल्म निर्माण के क्षेत्र से जुड़ी बुनियादी जानकारी के साथ साथ आवश्यक प्लेटफार्म मुहैया कराना है। संस्था व आयोजन के संयोजक सह वरिष्ठ सलाहकार जॉन डेनिस होरो ने बताया कि संस्था झारखंड फिल्म इंडस्ट्री को राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर एक मजबूत पहचान देने हेतु सतत सकारात्मक प्रयास में भागीदार बने, इस उद्देश्य से इस वर्कशॉप का आयोजन किया जा रहा है। इस वर्कशॉप में वॉल्टर भेंगरा, मेघनाथ, बीजू टोप्पो, नंदलाल नायक, दीपक बाड़ा, निरंजन कुजूर, सेरल मुरमु जैसे स्थानीय एक्सपर्ट के साथ ही मुम्बई फिल्म उद्योग से जुड़े लोगों से भी रूबरू हो पायेंगे। संस्था के सचिव सह जाने मामले चिकित्सक डॉ. देवनीस खेस बताते हैं कि आदिवासियों का गीत संगीत से विशेष नाता है। अब अखड़ा से निकलकर यह बड़े पर्दे या छोटे स्क्रीन पर अपनी जगह बना चुका है। उसके और बेहतर प्रस्तुति में यह वर्कशॉप एक बड़ी भूमिका निभायेगा। आयोजन के सह संयोजक आनंद खा़लखो़ ने बताया कि हाल के दिनों में क्षेत्रीय भाषाओं में फिल्म व एलबम बड़ी संख्या में बन रहे हैं, बावजूद इसके उन्हें उत्तम दर्जे का नहीं माना जा सकता। तकनीकी रूप से वो कमजोर हैं और उन्हें इस अल्पकालीन प्रशिक्षण से काफी फायदा होगा। इच्छुक व्यक्ति या छात्र अपना रजिस्ट्रेशन निम्नलिखित नंबर 6201520624; 9921820670 पर करा सकते हैं।

This post has already been read 1281 times!

Sharing this

Related posts