माही ने बेथेसदा की छात्रा शिल्पा कुमारी को साईकिल भेंट किया

हमे अपनी आर्थिक कमी को शिक्षा समाप्ति का जरिया नहीं बनने देना है : जुनैद अनवर

राँची : मौलाना आजाद ह्यूमेन इनिशिएटिव (माही) के द्वारा जमैतुल इराकीन के सहयोग से नवीं व दसवीं की निःशुल्क कक्षाएं माही क्लासेस के नाम से चलायी जा रही है जिसमें लगभग 200 छात्र-छात्रायें दक्ष शिक्षकों के माध्यम से शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। इस कक्षा में शामिल होने के लिए दूर-दराज़ के इलाकों से भी विद्यार्थी आते हैं। इसी क्रम में एक छात्रा शिल्पा कुमारी के कक्षा में उपस्थिति,संघर्षलगन को देखते हुए माही ने शिल्पा के स्कूल बेथेसदा बालिका उच्च विद्यालय के सभागार में माही के संरक्षक जुनैद अनवर,वार्ड 16 की पार्षद नाज़िमा रज़ा एवं प्रधानाध्यापिका रेश्मा केरकेट्टा की उपस्थिति में उसे उपहार के रूप में साईकिल प्रदान किया। ज्ञात हो कि शिल्पा को अपने घर से प्रतिदिन माही क्लासेस पैदल आने-जाने में देढ़ से दो घण्टे का समय लगता है एवं सवारी के लिए आर्थिक कमी के कारण भाड़े की व्यवस्था नहीं कर पाती थी। साईकल प्राप्त कर शिल्पा ने खुशी का इज़हार करते हुए कही की अब वह आसानी से स्कूल,कोचिंग व अन्य जगहों पर जा सकती है जिससे काफी समय बचेगा और वह आगामी बोर्ड परीक्षा में ध्यान केंद्रित कर उत्तम अंकों से उत्तीर्ण होकर परिवार व स्कूल का नाम रौशन करेगी।
इस अवसर पर माही के संयोजक जुनैद अनवर ने छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि किसी भी तरह के आर्थिक कमी के कारण शिक्षा समाप्त नही करना है। शिल्पा ने अपने संघर्ष व लगन से न केवल अपने शिक्षकों को बल्कि मुझे भी प्रभावित की और आप सभी को भी इनसे प्रेरणा लेना चाहिए और शिक्षा के माध्यम से संघर्ष करते हुए सफलता की ओर बढ़ना चाहिए। माही की निरंतर प्रयास है कि कोई भी आर्थिक कमी की वजह कर शिक्षा लेने से वंचित नही रहे। जिस तरह शिल्पा ने अपनी लगन से ईनाम हासिल किया उसी तरह आप भी कर सकते हैं, मैं इसी मंच से घोषणा करता हूँ कि आप मे से आगामी बोर्ड परीक्षा में जो स्कूल टॉपर होगी उसे भी साईकिल दिया जाएगा।
इस अवसर पर वार्ड 16 की पार्षद नाज़िमा रज़ा ने कहा कि साईकिल का पहिया निरंतरता एवं गति का द्योतक है उसी तरह मैं आशा करती हूं कि शिल्पा एवं आप सभी छात्रायें अपने लक्ष्य की ओर गतिशील रहेंगी और सफलता प्राप्त कर परिवार व समाज का नाम रौशन करेंगी। मैं माही के सभी सदस्यों का तहे दिल से शुक्रिया अदा करती हूँ क्योंकि शिक्षा के क्षेत्र में इन्होंने लगातार सहयोग देकर आम जन के लिए आसान किया है। अब कोई भी शिक्षा से वंचित न रहे ये संकल्प लेने की जरूरत है जिसका बखूबी निर्वाहन माही के लोग कर रहे हैं।

This post has already been read 1601 times!

Sharing this

Related posts