माँ भगवती मंदिर खोड़ाहर में 24 घंटे का अखंड हरे कीर्तन की शुरुआत जल यात्रा के साथ हुई

बरही। प्रखण्ड के खोड़ाहर में 24 घंटे का अखंड हरे कीर्तन विधि विधान के साथ पूजन कर शुरुआत की गई। पूजा से पूर्व जल यात्रा निकला। जल यात्रा छठ तालाब से जल उठाकर पूरे गाँव का भ्रमण और सभी मंदिरों में पूजा अर्चना कर की गई। जल यात्रा के बाद कीर्तन की शुरुआत मंडप में किया गया। पूरा गाँव हरे राम हरे राम राम राम हरे हरे, हरे कृष्ण  हरे कृष्ण कृष्ण कृष्ण हरे हरे के ध्वनि से गूंज उठा। इस अवसर पर कमिटी के अध्यक्ष रंजीत चंद्रवंशी ने कहा कि अखंड हरि कीर्तन के आयोजन से लोगों में आस्था बढ़ती है। इतना ही नहीं लोगों के मन को शांति भी मिलती है। उन्होंने कहा कि अखंर हरि कीर्तन होने से अध्यात्मिक चेतना भी जगती है। अखंड हरि कीर्तन आस पास के गांवों के भी भक्तों ने भाग लिया। उन्होंने बताया कि इस प्रकार वृहत पैमाने पर अखंड हरिकीर्तन का उद्देश्य क्षेत्र में अमन-चैन, जनकल्याण के लिए किया जा रहा हैं। अखंड हरिकीर्तन गुरुवार को पूरे विधि-विधान के साथ प्रारंभ किया गया है। जलयात्रा में कमिटी के अध्यक्ष रंजीत चंद्रवंशी, सचिव ऋतुराज सिंह, कोषाध्यक्ष शंकर यादव, संयोजक उमेश कुमार सिंह, संरक्षक सरपंच कुलदीप सिंह, परमेश्वर यादव, घनु यादव, गणेश यादव, सुरेश सिंह, डेगन यादव, नारायण सिंह, सह सचिव महेश सिंह, उपाध्यक्ष देव यादव, सह कोषाध्यक्ष ईश्वर दयाल यादव, पूर्व मुखिया प्रत्याशी कविता कुमारी, सदस्य नरेश यादव, संतोष सिंह, संदीप सिंह, प्रमोद यादव, महेंद्र यादव, शशि सिंह, हरिताभ यादव, मुरारी भुइयां सहित सैकड़ों श्रद्धालु मौजूद थे।

This post has already been read 4385 times!

Sharing this

Related posts