पहले मैच में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को हराया, प्लेयर ऑफ द मैच मोहम्मद समी ने लिए 5 विकेट

New Delhi : भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन वनडे मैचों की सीरीज आज पंजाब के मोहाली में शुरू हुई जहां भारतीय टीम ने 5 विकेट से जीत हासिल की. मोहाली की बैटिंग फ्रेंडली पिच पर ऑस्ट्रेलिया 50 ओवर में 276 रन पर ऑलआउट हो गई और भारत को जीत के लिए 277 रन का टारगेट मिला। इस लक्ष्य को भारतीय टीम ने 48.4 ओवर में 5 विकेट के नुकसान पर आसानी से हासिल कर लिया. इस जीत के हीरो रहे भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद समी, जिन्होंने 5 विकेट लिए और ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को ज्यादा जमने नहीं दिया.

आज भारतीय कप्तान केएल राहुल ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया. यह फैसला तब सही साबित हुआ जब मोहम्मद समी ने पहले ओवर की चौथी गेंद पर जीत का चौका जड़ दिया. मिशेल मार्श 4 रन बनाकर पवेलियन लौटे और यहां से ऑस्ट्रेलिया बैकफुट पर नजर आने लगी। डेविड वार्नर और स्टीवन स्मिथ के बीच दूसरे विकेट के लिए 94 रन की साझेदारी का श्रेय श्रेयस अय्यर को देना होगा, जिन्होंने शार्दल ठाकुर की गेंद पर वार्नर का आसान कैच छोड़ा। वॉर्नर को 52 रन के निजी स्कोर पर रवींद्र जड़ेजा ने आउट किया. तभी मोहम्मद समी के हाथ में गेंद आते ही स्टीव स्मिथ को 41 रन के निजी स्कोर पर उन्होंने बोल्ड आउट कर दिया.

यहां कुछ छोटी-छोटी साझेदारियां हुईं, लेकिन बीच-बीच में विकेट गिरते रहे, जिससे ऑस्ट्रेलिया बड़े स्कोर की ओर नहीं बढ़ सका। मैरेंस लाबुचिन ने 39 रन, कैमरून ग्रीन ने 31 रन, मार्कस स्टोइन्स ने 29 रन और जोश इंगल्स ने 45 रन बनाए. उस समय ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 47.2 ओवर में 7 विकेट के नुकसान पर 250 रन था। अगली 16 गेंदों पर बाकी 3 विकेट गिरे और स्कोरबोर्ड पर 26 रन जुड़े. इस तरह ऑस्ट्रेलिया ने 50 ओवर में 276 रन बनाए.

भारत की ओर से मोहम्मद सामी और जसप्रित बुमरा ने पहले 10 ओवरों में बहुत संयमित गेंदबाजी की, जिसके परिणामस्वरूप बाद के गेंदबाजों पर तेजी से रन बनाने की कोशिश में ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज आउट हो गए। मोहम्मद समी ने सबसे खतरनाक गेंदबाजी की और 10 ओवर में 51 रन देकर 5 विकेट लिए. इस प्रदर्शन के लिए उन्हें प्लेयर ऑफ द मैच का पुरस्कार दिया गया। बुमराह को 1 विकेट मिला जिन्होंने 10 ओवर में 43 रन खर्च किये. रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जड़ेजा को भी 1-1 विकेट मिला.

277 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरे भारतीय सलामी बल्लेबाज़ शुबमन गिल और ऋतुराज गायकवाड़ कभी भी परेशानी में नहीं दिखे। पहले ही गेंद से रन बनने शुरू हो गए और जब दोनों के बीच 21.3 ओवर में 142 रनों की पार्टनरशिप हो गई तो 22वें ओवर की चौथी गेंद पर एडम जाम्पा ने ऋतुराज को एलबीडब्ल्यू आउट कर दिया. ऋतुराज ने 77 गेंदों पर 71 रनों की बेहतरीन पारी खेली. श्रेयस अय्यर दुर्भाग्यशाली रहे और सिर्फ 3 रन पर रन आउट हो गए। फिर शुबमन गिल भी 74 रन (63 गेंदों पर) बनाकर ज़म्पा की गेंद पर बोल्ड हो गए. ये वो वक्त था जब महज 9 रन पर 3 विकेट गिर गए थे.

यहां से कप्तान केएल राहुल और ईशान किशन के बीच छोटी लेकिन अहम साझेदारी हुई. ईशान किशन 26 गेंद पर 18 रन बनाकर आउट हुए. फिर एंट्री हुई सूर्य कुमार यादव की जिन्होंने वनडे में रनों का सूखा खत्म किया. उन्होंने कप्तान राहुल का पूरा साथ दिया और 80 रनों की साझेदारी की. जब टीम जीत से महज 12 रन दूर थी तब सूर्या बड़ा शॉट लगाने के प्रयास में आउट हो गए. उन्होंने 50 रनों का योगदान दिया. इसके बाद कोई विकेट नहीं गिरा और कप्तान राहुल ने 49वें ओवर की तीसरी और चौथी गेंद पर क्रमश: चौका और छक्का लगाकर मैच को भारत की पकड़ में ला दिया. उन्होंने नाबाद 58 रन बनाये. रवींद्र जड़ेजा भी 3 रन बनाकर नॉटआउट लौटे।

ऑस्ट्रेलिया की ओर से अगर किसी गेंदबाज ने भारतीय बल्लेबाजों को परेशान किया तो वो थे एडम जाम्पा. उन्होंने 10 ओवर में 57 रन देकर 2 विकेट लिए. कप्तान पैट कमिंस ने 10 ओवर में 44 रन देकर 1 विकेट लिया. 1 विकेट सीन एबॉट को भी मिला जिन्होंने 9.4 ओवर में 56 रन दिए. मार्कस स्टोइन्स काफी महंगे साबित हुए और उन्होंने 5 ओवर में 40 रन खर्च कर दिए. कैमरून ग्रीन ने 6 ओवर में 44 रन और मैथ्यू शॉर्ट ने 8 ओवर में 39 रन दिए.

This post has already been read 3265 times!

Sharing this

Related posts