दिग्गजों ने सचिन के कोच आचरेकर को दी श्रद्वांजलि

मुंबई। भारतीय क्रिकेट को सचिन तेंदुलकर जैसा नायाब तोहफा देने वाले कोच रमाकांत आचरेकर का बुधवार को यहां निधन हो गया। उनके निधन पर दिग्गजों ने उन्हें अपनी श्रद्वांजलि दी है। द्रोणाचार्य अवार्डी आचरेकर 87 वर्ष के थे। उन्होंने अपने घर दादर में शाम पांच बजे अंतिम सांस ली। आचरेकर को 1990 में द्रोणाचार्य अवार्ड और 2010 में पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। सचिन ने आचरेकर के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा, आचरेकर सर की उपस्थिति से स्वर्ग में भी क्रिकेट समृद्ध होगा। अन्य छात्रों की तरह मैंने भी क्रिकेट की एबीसीडी सर के मार्गदर्शन में ही सीखी। मेरे जीवन में उनके योगदान को शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता। उन्होंने वह नींव रखी, जिस पर मैं खड़ा हूं। सचिन ने कहा, मैं पिछले महीने सर एवं उनके कुछ छात्रों से मिला और उनके साथ समय बिताया। हमने पुरानी यादें साझा की और बहुत खुश हुए। मुझे आचरेकर सर ने सीधे बल्ले से खेलना और सादा जीवन जीना सिखाया। हमें अपने जीवन से जोड़ने और खेल के गुर सिखाने के लिए धन्यवाद।

सचिन के अलावा भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) और कई दिग्गज खिलाड़ियों ने उन्हें अपनी श्रद्वांजलि दी है।

बीसीसीआई ने अपने शोक संदेश में कहा, आचरेकर के निधन पर बीसीसीआई शोक व्यक्त करता है। उन्होंने न केवल महान क्रिकेट खिलाड़ियों को तराशा बल्कि उन्हें एक अच्छा इंसान बनने की भी शिक्षा दी। भारतीय क्रिकेट के लिए उनका योगदान अतुलनीय है।

पूर्व क्रिकेटर वीवीएस लक्ष्मण ने ट्विटर पर लिखा, मेरी रमाकांत आचरेकर सर को दिल से श्रद्धांजलि देता हूं जो भारतीय क्रिकेट को नायाब रत्न देने के लिए जाने जाते थे।

मोहम्मद कैफ ने उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए कहा, रमाकांत आचरेकर सर के देहांत पर मैं शोकाकुल परिवार और प्रियजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं जिन्होंने हमें सचिन तेंदुलकर जैसा नायाब तोहफा दिया।

विकेटकीपर बल्लेबाज रिद्धिमान साहा ने कहा, रमाकांत आचरेकर सर के देहांत का समाचार सुनकर मैं दुखी हूं। भगवान उनकी आत्म को शांति दे। क्रिकेट जगत हमेशा आपके योगदान को याद रखेगा।

पूर्व तेज गेंदबाज आरपी सिंह ने कहा, ये जानकर बेहद दुख: हुआ कि रमाकांत आचरेकर सर नहीं रहे। इस महान आत्मा को मैं अपनी श्रद्धांजलि देता हूं और उनके परिवार के प्रति संवेदना प्रकट करता हूं।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने भी उनके निधन पर शोक व्यक्त किया है।

This post has already been read 22063 times!

Sharing this

Related posts