एशियान गैमज़ की रंगारंग शुरुआत, चीन में सजे-धजे खिलाड़ियों का जमावड़ा

एशियाई खेल आज आधिकारिक तौर पर चीन के हांगझू में शुरू हो गए। इस रंगारंग कार्यक्रम में भारतीय हॉकी टीम के कप्तान हरमनप्रीत सिंह और मुक्केबाज लुलिना बोरघोएन ने भारतीय दल का नेतृत्व किया। इस दौरान चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग भी मौजूद रहे.

इस बार एशियन गेम्स में भारत की ओर से 655 एथलीट हिस्सा ले रहे हैं. भारत के ये 655 खिलाड़ी 40 अलग-अलग स्पर्धाओं में एक-दूसरे को चुनौती देंगे। पिछले साल एशियाई खेल जकार्ता में आयोजित हुए थे जिसमें भारत के 572 एथलीटों ने हिस्सा लिया था. चीन में हो रहे एशियन गेम्स की बात करें तो इस बार 45 देशों के 12 हजार से ज्यादा एथलीट हिस्सा ले रहे हैं. इस बार एशियाई खेलों में भारतीय क्रिकेट टीम भी प्रतिस्पर्धा करती नजर आएगी। हालांकि इससे पहले 2010 और 2014 में एशियाई खेलों में क्रिकेट को शामिल किया गया था, लेकिन बीसीसीआई ने अपनी टीम नहीं भेजी थी. इस बार भारतीय महिला और पुरुष दोनों टीमें स्वर्ण पदक जीतने की कोशिश करेंगी.

एशियाई खेलों में क्रिकेट के इतिहास पर नजर डालें तो 2010 में बांग्लादेश की पुरुष क्रिकेट टीम ने स्वर्ण पदक जीता था और महिला क्रिकेट में स्वर्ण पदक पाकिस्तान ने जीता था. 2014 एशियाई खेलों में, श्रीलंका ने पुरुष वर्ग में स्वर्ण पदक जीता, जबकि पाकिस्तान ने एक बार फिर महिला वर्ग में स्वर्ण पदक जीता। इस बार भारत को दोनों कैटेगरी में गोल्ड जीतने की उम्मीद है. महिला क्रिकेट में भारतीय टीम भी सेमीफाइनल में पहुंच गई है जहां कल उसका मुकाबला बांग्लादेश महिला टीम से होगा. दूसरे सेमीफाइनल में पाकिस्तान का मुकाबला श्रीलंका की महिला टीम से होगा. अगर भारत और पाकिस्तान की टीमें अपने-अपने मैच जीत जाती हैं तो फाइनल में दोनों टीमें आमने-सामने होंगी.

This post has already been read 1953 times!

Sharing this

Related posts