एचडीएफसी को 2,114 करोड़ रुपये का मुनाफा

मुंबई। आवास ऋण मुहैया कराने वाली प्रमुख कंपनी एचडीएफसी ने वित्त वर्ष 2018-19 की तीसरी तिमाही में 2,114 करोड़ रुपये का मुनाफा दर्ज किया है। कंपनी के मुताबिक, समीक्षाधीन अवधि में उसके मुनाफे की तुलना 31 दिसंबर 2017 को समाप्त तिमाही से नहीं की जा सकती, क्योंकि चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में उसके आय में एचडीएफसी लाइ के आईपीओ से प्राप्त आय भी शामिल है।पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में कंपनी ने 5,300 करोड़ रुपये का मुनाफा दर्ज किया था। कंपनी ने बताया कि समीक्षाधीन अवधि में उसकी ब्याज आय 2,871 करोड़ रुपये रही, जबकि एक साल पहले की समान तिमाही में यह 2,442 करोड़ रुपये थी, जिससे 18 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। कंपनी ने एक बयान में कहा, नेशनल हाउसिंग बैंक (एनएचबी) के नियमों के तहत कंपनी का सकल गैर निष्पादित ऋण 31 दिसंबर 2018 तक 4,731 करोड़ रुपये रहा, जो कि उसके कुल ऋण पोर्टफोलियो का 1.22 फीसदी है। कंपनी ने कहा, एनएचबी नियमों के तहत कॉपोरेशन को कुल 3,068 करोड़ रुपये का प्रावधान करना पड़ेगा, जबकि कंपनी के प्रावधान और ऋण हानि खाते में 31 दिसंबर 2018 तक कुल 5,220 करोड़ रुपये थे, जोकि कंपनी के कुल ऋण पोर्टफोलियो का 1.35 फीसदी है।

This post has already been read 6741 times!

Sharing this

Related posts