हांगकांग में नकाब पहनने पर प्रतिबंध के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन, रेल सेवाएं हुईं बंद

हांगकांग। हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शकारियों के नकाब (मास्क) पहनने पर प्रतिबंध लगाए जाने को लेकर हिंसा भड़कने के बाद शनिवार को आम लोगों की आवाजाही से जुड़ी रेल सेवाएं निलंबित कर दी गईं। हांगकांग की नेता कैरी लैम ने चार महीने से चल रहे सरकार विरोधी प्रदर्शनों पर कड़ा रुख अपनाते हुए शुक्रवार को प्रदर्शनों के दौरान नकाब पहनने पर रोक लगा दी थी, जिसके जवाब में हजारों प्रदर्शनकारियों ने नकाब पहनकर विरोध जताया। लैम ने कहा कि औपनिवेशिक काल में बने आपातकालीन नियामक अध्यादेश के तहत उन्होंने आदेश दिए हैं, जिसके तहत वह विधायिका को नजरअंदाज कर सकती हैं और आपातकाल या सार्वजनिक जोखिम के समय में कोई भी कानून बना सकती हैं। उन्होंने शुक्रवार को कहा, “हमें उम्मीद है कि नया कानून हिंसक प्रदर्शनकारियों और उपद्रवियों को हतोत्साहित करेगा और पुलिस की मदद करेगा।” लैम के इस आदेश को लेकर हांगकांग में विरोध प्रदर्शन तेज हो गए। ज्यादातर कामकाजी लोगों की भीड़ ने सड़कों को अवरुद्ध कर दिया और कुछ प्रदर्शनकारियों ने चीन समर्थक बैनर भी फाड़े। पुलिस ने सड़कों पर उतरने, भूमिगत मार्गों में तोड़फोड़ करने और सड़क पर आग लगाने वाले प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए कई स्थानों पर आंसू गैस का इस्तेमाल किया। प्रदर्शनों के चलते शनिवार को एयरपोर्ट लाइन ट्रेन सेवाओं समेत रेल सेवाएं निलंबित रहीं। रेल संचालकों ने कहा कि सेवाएं फिर से शुरू करने से पहले स्टेशनों को हुए नुकसान का आकलन किया जाएगा।

This post has already been read 343 times!

Sharing this

Related posts