वीएचएसएनसी सदस्यों और पंचायत प्रतिनिधियों के भूमकाएँ और जिम्मेदारियों पर दिया जाएगा प्रशिक्षण

छपरा : कोविड-19 संक्रमण के दौरान आरोग्य दिवस के आयोजन एवं संक्रमण के प्रसार और रोकथाम के लिए पंचायत प्रतिनिधियों वीएचएसएनसी( विलेज हेल्थ, न्यूट्रिशन एंड सैनिटेशन कमिटी) के सदस्यों की भूमिकाएं एवं जिम्मेदारियां विषय पर ऑनलाइन प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसको लेकर राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार ने सभी सिविल सर्जन को पत्र लिखकर आवश्यक दिशा निर्देश जारी किया है। जारी पत्र में बताया गया है कि स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के अंतर्गत एडवाइजरी ग्रुप ऑन कम्युनिटी एक्शन के द्वारा कोविड-19 संक्रमण के दौरान आरोग्य दिवस के आयोजन एवं वीएचएसएनसी की बदलती भूमिका पर ऑनलाइन प्रशिक्षण आयोजित किया जाएगा। प्रशिक्षण के अंतर्गत कोविड-19 के संक्रमण की स्थिति में योग दिवस के आयोजन एवं एचएसएनसी की भूमिका के संबंध में प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। प्रशिक्षण के प्रथम चरण में जिला स्तर पर कार्यरत जिला समुदायिक उत्प्रेरक एवं द्वितीय चरण में प्रखंड सामुदायिक उत्प्रेरक को प्रशिक्षण दिया जाएगा। कोविड-19 महामारी के दौरान रोग दिवस पर सभी सेवाओं को नियमित किया गया है। अतः इस महामारी को देखते हुए आरोग्य दिवस सत्र स्थल पर बेहतर प्रबंधन एवं सेवा प्रदाता और लाभार्थियों को संपूर्ण सुरक्षा देते हुए आरोग्य दिवस संचालित किए जाने की आवश्यकता है। यह दिशानिर्देश समुदाय और स्तर पर कोविड-19 प्रसार के जोखिम को कम करने में मदद करेगा। पंचायत प्रतिनिधियों और वीएचएसएनसी के सदस्यों की भूमिका एवं जिम्मेदारियां: ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड-19 के संक्रमण के प्रसार को रोकने में वीएचएसएनसी महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकती है। इसके लिए भूमिका का विस्तार किया जा रहा है। 
पंचायत प्रतिनिधियों एवं वीएचएसएनसी के सदस्यों के द्वारा समुदाय को कोविड-19 के संक्रमण की वर्तमान स्थिति और उसके रोकथाम के उपायों के बारे में जागरूक किया जाएगा। यह सुनिश्चित करना कि समुदाय एवं सेवा प्रदाता के द्वारा कोविड-19 के रोकथाम से संबंधित उपायों को पालन किया जा रहा है। 

This post has already been read 728 times!

Sharing this

Related posts