ओरमांझी कांड में युवती का कटा सिर बरामद, नमक डालकर दफनाया गया था

Ranchi. ओरमांझी हत्याकांड में युवती का सिर बरामद कर लिया गया है.  मंगलवार दोपहर करीब एक बजे पुलिस ने चंदवे ग्राम में आरोपी शेख बिलाल के घर के पास स्थित खेत से लाश बरामद कर ली है. इसके साथ ही पुलिस ने पूरे मामले का खुलासा कर लिया है. जिस युवती की हत्या की गयी है, वह चान्हो थाना क्षेत्र के चटवल गांव की रहनेवाली सूफिया परवीन थी. उसकी हत्या उसके पति शेख बिलाल ने ही की थी.

बता दें कि रांची पुलिस ने 3 जनवरी को साईनाथ यूनिवर्सिटी के पीछे जंगली झाड़ियों के बीच युवती की सिरकटी लाश बरामद की थी. उसके बदन पर एक भी कपड़ा नहीं था. दो दिन पहले चान्हो थाना क्षेत्र के चटवल गांव के एक दंपती ने सिरकटी लाश की पहचान अपनी बेटी के रूप में की थी. पुलिस को दंपति ने बताया था कि उनकी बेटी सुफिया का बचपन में खाना बनाने के दौरान पैर जल गया था. रिम्स में जो शव उन्हें दिखाया गया है, उसके भी एक पैर में जले का निशान है. ऐसे में पुलिस ने तहकीकात बढ़ायी तो पूरे मामले का खुलासा हो गया.

खालिद से हुआ था सूफिया का विवाह, रह रही थी बिलाल के साथ

सूफिया परवीन लगभग 10 माह पहले सूफिया शेख बिलाल के संपर्क में आयी.दोनों पति-पत्नी के रूप में रह रहे थे. बाद में वह बिलाल को छोड़कर एक दूसरे युवक के साथ रहने लगी. पुलिस ने सोमवार को शेख बिलाल की तस्वीर भी जारी की है. रांची के ग्रामीण एसपी नौशाद आलम ने कहा कि बिलाल का सुराग देनेवालों को उचित पुरस्कार दिया जायेगा. बिलाल पहले भी हत्या के एक मामले में जेल जा चुका है. बता दें कि गत 3 जनवरी को पुलिस ने ओरमांझी थाना क्षेत्र स्थित जिराबार पलाश पतरा जंगल से एक युवती का सर कटा शव बरामद किया था. उसकी हत्या निर्ममता पूर्वक की गयी थी और उसके निजी अंगों पर धारदार हथियार से जख्म के निशान पाये गये थे.

This post has already been read 1859 times!

Sharing this

Related posts