Ranchi : आर्मी कैंटीन तक पहुंचा ठग, एटीएम कार्ड बदल उड़ा लिया एक लाख 94 हजार रुपये, पढ़े पूरा मामला

Ranchi : रांची के लालपुर इलाके में स्थित आर्मी कैंटीन में महिला वैशांगी उरांव का एटीएम कार्ड बदल कर अपराधियों ने एक लाख 94 हजार रुपये उड़ा लिया. इस संबंध में लालपुर थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई. पुलिस आर्मी कैंटीन में जाकर मामले की जानकारी लेने का प्रयास कर रही है. महिला ने बताया कि वह सोमवार को कैंटीन में सामान लेने गई थी. सामान लेने के बाद महिला ने काउंटर पर बैठी महिला को एटीमए कार्ड दिया. वहीं पर उसका कार्ड बदल दिया गया. कुछ देर के बाद महिला के खाते से पैसा निकलने लगा. महिला ने अपना एटीएम कार्ड देखा तो उसके पास विनोद मुंडा के नाम का एटीएम कार्ड था. महिला ने कैंटीन में जाकर एटीएम कार्ड के बारे में जानकारी लेने का प्रयास किया लेकिन कुछ पता नहीं चल पाया. महिला का कहना है कि कैंटीन में कार्ड बदल दिया गया और विनोद नाम के व्यक्ति का कार्ड उसे दे दिया गया. महिला ने कैंटीन में एटीएम कार्ड चेक नहीं किया था. पैसा निकलने के बाद महिला को पता चला कि उसका कार्ड उसके पास नहीं है.

और पढ़ें : विधानसभा में 4684.93 करोड़ का प्रथम अनुपूरक बजट हुआ पारित

नौ घंटे तक महिला को दौड़ाने के बाद पुलिस ने दर्ज किया एफआईआर

पीड़ित महिला वैशांगी हेहल इलाके की रहने वाली है. महिला के खाते से पैसा निकलने के बाद उसने अपना कार्ड बंद करा दिया. महिला सोमवार की दोपहर 12 बजे साइबर थाना गई. वहां पूरे मामले की जानकारी लेने के बाद मामला दर्ज नहीं किया गया. वहां से पीड़िता को साइबर डीएसपी के पास भेज दिया गया. वहां से फिर महिला को लालपुर थाना भेज दिया गया. लालपुर पुलिस ने रात नौ बजे मामले की जानकारी लेने के बाद प्राथमिकी दर्ज की.

साइबर थाना में दो लाख से अधिक का दर्ज होता है मामला

साइबर थाना में दो लाख रुपये से अधिक की ठगी का मामला दर्ज होता है। दो लाख से कम होने पर लोकल थाना में मामला दर्ज किया जाता है। दो थानों के चक्कर में पीड़ित को परेशानी का सामना करना पड़ता है। पुलिस जबतक प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई शुरू करती है तबतक साइबर अपराधी पुलिस की पकड़ से काफी दूर निकल जाते हैं।

इसे भी देखें : विधानसभा में नमाज स्थल बनाए जाने का हो रहा है विरोध, विधानसभा में बीजेपी का हरी कीर्तन

आर्मी कैंपस में कैसे पहुंचा ठग

पुलिस का कहना है कि जिस मिला को पेमेंट करने के लिए कार्ड दिया गया था उससे पूछताछ की जाएगी. आर्मी कैंपस में ठग कैसे पहुंच गया, इसकी जांच चल रही है. पूरे मामले को सिटी डीएसपी खुद मॉनिटरिंग कर रहे हैं.

This post has already been read 17647 times!

Related posts