वो 34 साल की थी,अपनी यात्रा की तस्वीरों को लगातार सोशल मीडिया पर शेयर किया करती थी

National : कल हिमाचल प्रदेश के किन्नौर में हुए भूस्खलन से कई परिवार के घरों का दीया बुझ गया. हिमाचल के प्राकृतिक सौंदर्य को अपनी यादों में संजोने के लिए निकले कुछ पर्यटकों के लिए रविवार की दोपहर मौत की घड़ी बनकर आई. किन्नौर जिले में हुए भूस्खसलन में 9 लोगों की मौत हो गई और 3 घायल हो गए. मरने वालों में एक डॉ दीपा शर्मा भी थीं. दीपा की उम्र मात्र 34 साल की थी. वो अपनी यात्रा की तस्वीरों को लगातार सोशल मीडिया पर शेयर किया करती थी. जयपुर की रहने वाली डॉ दीपा शर्मा ने इस हादसे के कुछ मिनटों पहले एक फोटो ट्वीट किया था. लेकिन उन्हें इस बात की बिलकुल भी भनक नहीं थी कि यह उनका आखिरी फोटो होगा. उनके निधन की जानकारी मिलते लोगों ने उनके सोशल मीडिया पर श्रद्धांजलि देनी शुरू कर दी. हसदे से पूर्व एक फोटो को उन्होंने सोशल मीडिया पर शेयर किया था. उसमे उन्होंने लिखा था कि ‘भारत के उस आखिरी पॉइंट पर खड़ी हूं जिसके आगे जाने की नागरिकों को अनुमति नहीं. इस जगह से करीब 80 किलोमीटर दूर तिब्त् ज का बॉर्डर है जिस पर चीन ने अवैध कब्जाग कर रखा है.

और पढ़ें : रांची रिजल्ट जनमंच जनहित के मुद्दों पर लगातार बैठक कर आम जनता की समस्या और आवाज को प्रशासन तक पहुंचाने के लिए लगातार काम कर रही है

पहली बार अकेले हिमालय घूमने निकली थीं, बन गयी आखिरी यात्रा
इस ट्वीट के महज कुछ देर बाद ही टेंपो ट्रैवलर (जिसपर वो सवार थी) भूस्खसलन की चपेट में आ गया. इस हादसे में कुल चार महिलाओं की मौत हुई. मरने वाले अधिकतर यात्री जयपुर के बताये जा रहे है.


इसे भी देखें : सूर्योदय के साथ ही शुरू हुई पहली सावन सोमवारी

बता दें,खुद दीपा भी जयपुर की ही थीं. पेशे से डायटीशियन दीपा शर्मा पहली बार हिमालय की सैर पर अकेले निकली थीं. लेकिन उन्हें नहीं पता था कि यह उनकी आखिरी यात्रा होगी.

This post has already been read 1119 times!

Related posts