जल-जंगल-जमीन की रक्षा के लिए सदैव चिंतित रहे हैं राहुल गांधी : आलोक दूबे

रांची । कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे ने कहा कि राहुल गांधी झारखण्ड के आदिवासियों एवं मूलवासियों के जल-जंगल-जमीन की रक्षा के लिए सदैव चिंतित रहे हैं। यही वजह है कि देश के कई सभाओं में झारखण्ड के आदिवासियों एवं मूलवासियों की आवाज उठाते रहे हैं। झारखण्ड के किसानों की समस्या भी उनके प्राथमिकताओं में है और इसलिए कांग्रेस अपने घोषणा पत्र में किसानों की ऋण माफ करने के दावे को सरकार बनते ही क्रियान्वित करती है। झारखण्ड में उनके दौरे को लेकर कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं में उत्साह है।

उन्होंने कहा कि पार्टी पहले चरण के चुनाव के समाप्ती के बाद अब हम दूसरे चरण के चुनाव की तैयारी में जुट गये हैं। दूसरे चरण में 20 विधानसभा सीटों पर चुनाव होने हैं। जिसमें हम माण्डर, कोलेबिरा, सिमडेगा, जगन्नाथपुर, पूर्वी जमशेदपुर, पश्चिमी जमशेदपुर में चुनाव लड़ रहे हैं। दूबे रविवार को पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के स्टार प्रचार राहुल गांधी दो दिसम्बर को सिमडेगा में एक विशाल जनसभा को संबोधित करने आयेंगे। यह हमारे लिये यह सौभाग्य की बात है। उन्होंने कहा कि इसके अलावा कांग्रेस महासचिव मुकुल वासनिक, प्रवक्ता मनीष तिवारी, जयोतिरादित्य सिंधिया सहित कई नेता भी आयेंगे। 

प्रवक्ता लाल किशोरनाथ शाहदेव ने कहा कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने झारखंड के चुनावी सभा में कहा कि कांग्रेस ने महाराष्ट्र में चोरी से सरकार बना बनाई है। जबकि सच्चाई यह है कि भाजपा ने महाराष्ट्र में सारी नैतिकता को तार-तार कर दिया है। इसके पूर्व भी गोवा, मणिपुर, बिहार, कर्नाटका में भी ऐसा ही किया गया। झारखंड में तो डकैती करके पांच साल सरकार चलाया और मंत्रीमंडल का एक बर्थ सरकार गिरने के डर से खाली रखा।

उन्होंने कहा कि जहां तक पांच साल भ्रष्टाचार मुक्त रही सरकार कहने वाले भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा व राजनाथ सिंह को यह पता होना चाहिए कि झारखंड में भाजपा ही भ्रष्टाचार का जननी है। पांच वर्षों में कंबल घोटाला, दवा घोटाला, 2200 करोड़ का बांध, नियुक्ति घोटाला, विधायकों का खरीद फरोख्त करके सरकार बनाना, कमीशन मांगते हुए दो-दो मंत्री सरकार की उपलब्धी रही है। भाजपा के नेता कुछ भी कर लें, भाजपा सरकार इस राज्य में दोबारा नहीं बनने वाली है। प्रेसवार्ता में प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष केशव महतो कमलेश, जोनल को-ऑर्डिनेटर अशोक चौधरी आदि मौजूद थे।

This post has already been read 4033 times!

Related posts