राहुल में जीडीपी ग्रोथ का आंकड़ा शेयर कर सरकार की नीतियों पर उठाया सवाल

नई दिल्ली : आर्थिक मंदी और कोरोना की मार झेल रही अर्थव्यवस्था को संभालने की दिशा में केंद्र सरकार द्वारा ठोस कदम नहीं उठाए जाने को लेकर कांग्रेस पार्टी अक्सर सरकार को घेरती रही है। अब पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कई अन्य देशों में कोरोना समस्या और वहां की आर्थिक स्थिति को लेकर एक आंकड़ा रखा है। जिसके मुताबिक वर्ष 2020 में भारत की जीडीपी में 10.3 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है।

राहुल गांधी ने सोमवार को भारत समेत 12 देशों के जीडीपी ग्रोथ तथा कोरोना संक्रमण के कारण मौतों के मामलों को रखते हुए सरकार की नीतियों पर सवाल खड़ा किया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि ‘कैसे एक अर्थव्यवस्था पूरी तरह नष्ट हुई और अधिकतम लोग कोरोना से संक्रमित हुए।’ अपने ट्वीट के साथ राहुल ने अन्य देशों में भारत से बेहतर स्थिति होने को लेकर अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) और वर्ल्डोमीटर का आंकड़ा भी पेश किया।

आईएमएफ और वर्ल्ड मीटर द्वारा संग्रहित रिपोर्ट में बताया गया है कि कोरोना से भारत की जनता और उसकी अर्थव्यवस्था दोनों बुरी तरह प्रभावित हुई है। आंकड़ों के मुताबिक इस वर्ष भारत की जीडीपी में 10.3 प्रतिशत की गिरावट हुई है। जबकि बांग्लादेश में 3.8 प्रतिशत की विकास दर के साथ शीर्ष स्थान पर है। वहीं चीन 1.9 और वियतनाम 1.6 प्रतिशत के साथ क्रमश: दूसरे और तीसरे स्थान पर है। इस क्रम में नेपाल चौथे और पाकिस्तान पांचवे स्थान पर है।

उक्त सारणी में कोरोना वायरस की वजह के हुई मौतें के आकड़ों को भी बताया गया है। जिसके मुताबिक भारत में प्रति दस लाख आबादी पर 83 मौत की बात कही गई है। इसी प्रकार प्रति दस लाख पर इंडोनेशिया में 46, अफगानिस्तान में 38, बांग्लादेश में 34 और पाकिस्तान में 30 लोगों की मौत हुई है। वहीं चीन में मात्र तीन लोगों की मौत प्रति दस लाख की आबादी पर हुई है।

इससे पहले भी राहुल ने भारत, बांग्लादेश और नेपाल में अर्थव्यवस्था का तुलनात्मक तौर पर आंकड़ा पेश किया था। जिसमें आईएमएफ द्वारा प्रति व्यक्ति जीडीपी में बढ़ोतरी को बताया गया था। इसे लेकर राहुल ने कहा था कि निकट भविष्य में बांग्लादेश विकास दर के मामले में जल्द ही भारत को पछाड़ देगा।

This post has already been read 629 times!

Sharing this

Related posts