सूरत जा रही निजी बस गोधरा के पास पलटी, 42 घायल, सात की हालत गंभीर

काेरोना निर्देशों को ठेंगा दिखाकर निजी बस में 100 से अधिक मजदूर थे सवार
गोधरा/अहमदाबाद :  गोधरा-परवाडी चौराहे के पास लगभग 100 श्रमिकों को लेकर जा रही एक बस पलट गई। हादसे में 35 से अधिक यात्री घायल हो गए, जिनमें से तीन अधिक गंभीर हैं। यह लग्जरी बस उत्तर प्रदेश से आ रही थी। घायलों को गोधरा और वडोदरा के सिविल अस्पताल में भेज दिया गया है। बताया गया कि कोरोना संबंधी दिशा निर्देशों के बावजूद बस में अनुमानित 100 यात्री थे। सभी सूरत जाने वाले मजदूर थे, जो लॉकडाउन के बाद घर से लौट रहे थे। उत्तर प्रदेश से सूरत जा रही एक निजी बस के ड्राइवर ने स्टीयरिंग पर नियंत्रण खो दिया। बस गोधरा अफोर्डेबल बाईपास के पास पलट गयी। आसपास के लोगों ने माैके पर पहुंच कर लोगों को बस से निकाला और पुलिस और 108 एंबुलेंस को सूचना दी। बस सवार 42 घायलों को गोधरा सिविल अस्पताल में और सात घायलों को वडोदरा ले जाया गया। 
उल्लेखनीय है कि कोरोना संबंधी दिशा निर्देशों के बाद भी निजी बस चालक मनमानी कर रहे हैं। बस में निर्धारित क्षमता से तीन गुना यात्री ले जाये जा रहे हैं। इससे पूर्व एक सप्ताह पहले दाहोद से सौराष्ट्र जा रही एक बस पलट गई थी। इस बस में भी100 से अधिक मजदूर सवार थे। सवाल वही उठता है कि कानून तोड़ने वाले निजी ट्रैवल ऑपरेटरों के खिलाफ पुलिस कोई कार्रवाई क्यों नहीं करती है।

This post has already been read 464 times!

Sharing this

Related posts