समाप्त हुए कारोबारी सप्ताह में शीर्ष दस में से नौ कंपनियों के डूबे 1.60 लाख करोड़

नई दिल्ली/मुम्बई । बाजार पूंजिकरण में देश की दस शीर्ष कंपनियों में से 09 में समाप्त हुए कारोबारी सप्ताह में अमेरिका-चीन के ट्रेड वार से खासा नुकसान हुआ है। इनके मार्केट कैप में 1.60 लाख करोड़ रुपये की कमी आयी है। टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) को छोडकर सभी को नुकसान हुआ है।सर्वाधिक नुकसान रिलायंस इंडस्ट्रीज को हुआ है। समाप्त हुए कारोबारी सप्ताह में बाजार पूंजीकरण (एम कैप)  में सबसे ज्यादा जिस कंपनी में गिरावट दर्ज की गयी, उनमें  रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार पूंजीकरण 99,212.9 करोड़ रुपये लुढ़ककर 7,92,680.96 करोड़ रुपये रहा। इसके साथ आरआईएल देश की सर्वाधिक मूल्यवान कंपनी के रूप में टीसीएस से पीछे हो गयी। एचडीएफसी बैंक का मार्केट कैप 19,634 करोड़ रुपये घटकर 6,25,874.51 करोड़ रुपये पर आ गया जबकि एचडीएफसी की बाजार हैसियत 13,573.5 करोड़ रुपये घटकर 3,32,435.38 करोड़ रुपये पर पहुंच गयी। आईसीआईसीआई बैंक का बाजार पूंजीकरण 10,974.8 करोड़ रुपये घटकर 2,48,112.25 करोड़ रुपये तथा आईटीसी का एमकैप 7,232.6 करोड़ रुपये कम होकर 3,64,939.46 करोड़ रुपये रहा।कोटक महिंद्रा बैंक का एमकैप 4,409.41 करोड़ रुपये घटकर 2,66,292.11 करोड़ रुपये तथा इन्फोसिस का बाजार पूंजीकरण 3,364.07 करोड़ रुपये कम होकर 3,12,837.34 करोड़ रुपये रहे। हिन्दुस्तान यूनीलिवर (एचयूएल) की बाजार हैसियत 1,233.88 करोड़ रुपये घटकर 3,65,207.28 करोड़ रुपये तथा भारतीय स्टेट बैंक का एमकैप 981.71 करोड़ रुपये कम होकर 2,74,922.66 करोड़ रुपये पर आ गये। दूसरी तरफ टीसीएस का बाजार पूंजीकरण 1,144.48 करोड़ रुपये बढ़कर 8,01,340.52 करोड़ रुपये पर पहुंच गया।

This post has already been read 4640 times!

Sharing this

Related posts