MP : ओंकारेश्वर मंदिर मंगलवार से खुलेगा, प्री बुकिंग पर होंगे ज्योतिर्लिंग के दर्शन

खण्डवा। देश के 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक खंडवा जिले के ओंकार पर्वत पर स्थित भगवान ओंकारेश्वर-ममलेश्वर मंदिर मंगलवार, 16 जून से दर्शनार्थियों के लिए खोल दिया जाएगा। यहां प्री-बुकिंग के आधार पर श्रद्धालु ज्योर्लिंग भगवान ओंकारेश्वर-ममलेश्वर के दर्शन कर सकेंगे। यह जानकारी सोमवार को पुनासा एसडीएम डॉ. ममता खेड़े ने मीडिया को दी। उन्होंने बताया कि ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग के दर्शन की व्यवस्था मंगलवार, 16 जून से श्रद्धालुओं के लिए की जा रही है। निर्धारित शारीरिक दूरी के प्रावधानों का सख्ती से पालन कराने के उद्देश्य से ज्योतिर्लिंग दर्शन के लिए प्री-बुकिंग कराना अनिवार्य होगा। श्रद्धालु ज्योतिर्लिंग दर्शन के लिए मंदिर की वेबसाइट www.shriomkareshwar.org के माध्यम से अथवा मोबाइल नम्बर 7617238888 या 9406865628 के माध्यम से अथवा मोबाइल एप के माध्यम से बुकिंग कर सकते हैं। इसके अलावा ओंकारेश्वर में स्थित फेसिलिटी सेंटर पर आकर भी दर्शन के लिए श्रद्धालु अपनी बुकिंग करा सकते हैं।

श्रद्धालु अपना आधार कार्ड व मोबाइल साथ लाएं

एसडीएम डॉ. खेड़े ने श्रद्धालुओं से अनुरोध किया है कि दर्शन के लिए आते समय श्रद्धालु अपना आधार कार्ड व जिस मोबाइल से बुकिंग की गई है, वह अपने साथ लाएं। उन्होंने बताया कि एक एन्ड्रायड मोबाइल से पांच व्यक्तियों के दर्शन की व्यवस्था हो सकेगी। इसके बाद इसी मोबाइल नम्बर से अगले 15 दिवस तक दर्शन के लिए बुकिंग नही की जा सकेगी। श्रद्धालुओं से अनुरोध किया गया है कि वे मंदिर ट्रस्ट की ओर से बुकिंग कन्र्फेमेशन एसएमएस प्राप्त होने के बाद ही ओंकारेश्वर दर्शन के लिए आये।  

यह रहेंगे प्रतिबंधित

एसडीएम डॉ. ममता खेड़े ने बताया कि गर्भग्रह में श्रद्धालुओं का प्रवेश पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा। इसके अलावा पूजन सामग्री, जल, प्रसाद, अभिषेक, पूजन, तिलक लगाने के साथ ही ज्योतिर्लिंग मंदिर परिसर में स्थित अन्य मंदिरों में भी प्रवेश प्रतिबंधित होगा। इस दौरान प्रसादालय व विश्रामालय बंद रहेंगे। अभिषेक हॉल में पंडितों द्वारा पूजन अभिषेक भी प्रतिबंधित रहेगा। दान राशि केवल दान पेटियों में ही डालने की अनुमति होगी। यात्रियों को सलाह दी गई है कि कोरोना संक्रमण से बचाव को ध्यान में रखते हुए 10 वर्ष से कम आयु के बच्चे तथा 65 वर्ष से अधिक आयु के वरिष्ठ नागरिकों व गर्भवती महिलाओं को अपने साथ में न लायें। इस दौरान ओंकारेश्वर व उसके आसपास के नर्मदा घाटों पर यात्रियों के स्नान की अनुमति नही दी गई है तथा घाटों पर स्नान को पूर्णत: प्रतिबंधित रखा गया है।

श्रद्धालुओं के लिए सलाह

ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग दर्शन के समय यात्रियों को मास्क लगाकर आना होगा। मंदिर परिसर के बाहर व भीतर कहीं भी थूकने पर प्रतिबंध रहेगा। यात्रियों को सलाह दी गई है कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए वे 2 मीटर की दूरी का सख्ती से पालन करें तथा मंदिर की रैलिंग व दीवार आदि को स्पर्श न करें। यात्रियों को सलाह दी गई है कि वे मंदिर परिसर में कोई सामान साथ में न लायें। मंदिर में प्रवेश से पूर्व हाथ व पैर सैनिटाइज करने की व्यवस्था की गई है।

This post has already been read 14432 times!

Sharing this

Related posts