अब आईपीएल में आठ की जगह दस टीमें खेलेंगी, 60 की जगह होंगे 74 मैच, बीसीसीआई को मिलेंगे 5 हजार करोड़

मुम्बई। भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) को आईपीएल के अगले सत्र में अच्छी खासी कमाई की उम्मीद है। इसका कारण यह है कि आईपीएल 2022 में आठ की जगह दस टीमें उतरेंगी। ऐसे में उसे दो नई टीमों से ही 5 हजार करोड़ मिलने की उम्मीद है। बीसीसीआई ने एक टीम का आधारमूल्य ही करीब 2 हजार करोड़ रुपये रखा है। ऐसे में उसे दो टीमों से करीब 5 हजार करोड़ रुपये मिल सकते हैं।

और पढ़ें : झारखण्ड में सोनू सूद का जबरा फैन, पूजा घर में लगाई फोटो, सीने पर गुदवाई एक्टर तश्वीर

दो टीमें बढ़ने के कारण अगले सत्र से 60 की जगह 74 मैच खेले जाएंगे। इसके लिए आईपीएल गवर्निंग काउंसिल की बैठक के दौरान बोली प्रक्रिया को अंतिम रूप दिया गया। अब तक मिली जानकारी के अनुसार कोई भी कंपनी 75 करोड़ रुपये देकर बोली दस्तावेज खरीद सकती है। पहले 2 नई टीमों का आधार मूल्य 1700 करोड़ रुपये रखने पर विचार किया जा रहा था पर इसके बाद आधार मूल्य 2000 करोड़ रुपये कर दिया गया है।

जानकारों के अनुसार यदि बोली प्रक्रिया योजना के अनुसार आगे बढ़ी तो बीसीसीआई को कम से कम 5000 करोड़ रुपये का लाभ होगा, क्योंकि कई कंपनियां बोली प्रक्रिया में रुचि दिखा रही हैं। ऐसे में बोर्ड को कम से कम 5000 करोड़ रुपये मिलने की उम्मीद है। अगले सत्र में आईपीएल में 74 मैच होंगे और यह सभी के लिए लाभ की बात रहेगी। गौरतलब है कि सालाना 3000 करोड़ रुपये या इससे अधिक का टर्न ओवर रखने वाली कंपनियों को ही बोली प्रक्रिया में शामिल होने की अनुमति दी जाएगी।

ज्यादा ख़बरों के लिए आप हमारे फेसबुक पेज पर भी जा सकते हैं : https://www.facebook.com/avnpostofficial

यही नहीं बीसीसीआई कंपनियों के समूह को भी टीम खरीदने के लिए अनुमति देने की योजना बना रहा है. इससे बोली प्रक्रिया और अधिक रोचक बन जाएगी। सूत्र ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि तीन से अधिक कंपनियों को समूह बनाने की अनुमति नहीं दी जाएगी, लेकिन यदि तीन कंपनियां साथ में आकर एक टीम के लिए बोली लगाना चाहती हैं तो ऐसा करने के लिए उनका स्वागत है.’’ नई टीमों के लिए जो आधार स्थल रखे गये हैं उनमें अहमदाबाद, लखनऊ और पुणे भी शामिल हैं।

This post has already been read 57478 times!

Related posts