कश्मीर जाने की नहीं कोई वजह, यह भारत का अंदरुनी मामला : रशिया

नई दिल्ली। भारत में रशिया के राजदूत निकोल आर. कुदाशेव ने शुक्रवार को कहा कि उन्हें नहीं लगता कि कश्मीर जाने की कोई वजह है, क्योंकि यह भारत का अंदरुनी मामला है। कुदाशेव से जब कश्मीर जाने के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, “मुझे नहीं लगता कि मेरे लिए कश्मीर जाने की कोई वजह है। ये आपके फैसले हैं, और जहां तक कश्मीर की बात है तो यह आपका बेहद अंदरुनी मामला है जो भारत के संविधान के मुताबिक लिया गया है। उन्होंने आगे कहा कि जिन्हें कश्मीर के हालात के बारे में जानना है या जिन्हें कश्मीर को लेकर लिए गए भारत के फैसले पर शक है, वे वहां जा सकते हैं।  रशिया के राजदूत ने ये सब बातें  रायसीना डायलॉग-2020 में शामिल होने के लिए भारत आए रूस के विदेश मंत्री सर्जे लावरोव को लेकर रखी गई एक प्रेस कान्फ्रेंस के दौरान कहीं। रशियन राजदूत का ये बयान 15 देशों के राजदूतों के कश्मीर के दो दिवसीय दौरे  से लौटने के करीब एक हफ्ते के बाद आया है। इस 15 सदस्यीय डेलीगेशन ने कश्मीर में अनुच्छेद-370 हटाए जाने के बाद सरकार द्वारा उठाए गए कदमों की समीक्षा की थी। इस 15 सदस्यीय डेलीगेशन में अमेरिका, दक्षिण कोरिया, वियतनाम, बांग्लादेश, मालदीव, मोरक्को, फिजी, नॉर्वे, फिलीपींस, अर्जनटीना, पेरु, नाइजर, नाइजीरिया, टोगा और गुआना के राजदूत शामिल थे।

This post has already been read 717 times!

Sharing this

Related posts