कुख्यात नक्सली कुंदन पाहन के नाम से फोन पर मांगी लेवी, पूरा परिवार दहशत में

रांची। रांची के धुर्वा थाना क्षेत्र स्थित हैवी इंजीनियरिंग कॉरपोरेशन लिमिटेड (एचईसी) में काम करने वाले नारायण टोप्पो को भाकपा माओवादी के कुख्यात नक्सली कुंदन पाहन के नाम से फोन कर लेवी की मांग करते हुए धमकी देने का मामला प्रकाश में आया है। इस संबंध में नारायण टोप्पो ने शनिवार को धुर्वा थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी है। नारायण से शुक्रवार देर रात फोन कर लेवी की मांग की गयी है। इससे उनका पूरा परिवार दहशत में है। पुलिस सूत्रों के अनुसार नारायण टोप्पो एचईसी के एचएनबीपी के कार्मिक विभाग में कार्यरत है। वह एक कैंटीन भी चलाते हैं। कैंटीन के एक कर्मचारी को उन्होंने कुछ दिनों पहले ही काम से हटाया था। आशंका जतायी जा रही है कि उसी ने फोन कर लेवी की मांग की है। धुर्वा इंस्पेक्टर राजीव कुमार ने बताया कि फोन करने वाले नंबर को ट्रेस किया जा रहा है। नंबर के लोकेशन का पता चलते ही उसे गिरफ्तार कर लिया जायेगा। कुंदन पाहन दो वर्षों से जेल में बंद है। इसपर भी जांच की जा रही है। उल्लेखनीय है कि कुख्यात नक्सली कुंदन पाहन ने 14 मई 2017 को रांची जोन के डीआईजी अमोल वेणुकांत होमकर के समक्ष आत्मसर्पण किया था। रांची के तत्कालीन एसएसपी कुलदीप द्विवेदी के प्रयास से उसने आत्मसर्पण किया था। इसके बाद से कुंदन बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागार में बंद है। कुंदन के आत्मसर्पण के बाद पूछताछ में पुलिस को कई अहम जानकारियां भी मिली थी। जिसके बाद पुलिस को नक्सलियों के खिलाफ पुलिस को कई सफलता भी मिली थी।

This post has already been read 1825 times!

Sharing this

Related posts