कान में कांजीवरम साड़ी में कंगना

-विवेक कुमार पाठक-

जिस कान फिल्म फेस्टिवल में अभिनेत्री ऐश्वर्या रॉय स्टायलिश गाउन पहनकर हॉलीवुड अभिनेत्रियों से कदमताल करती नजर आती हैं वहां इस बार विश्व सिनेमा फैशन जगत ने हिन्दुस्तानी पहनावे का दीदार किया। भारत की बेबाक अभिनेत्री और मणिकर्णिका के कारण देश दुनिया में चर्चित रहने वाली अभिनेत्री कंगना रनौत इस बार अलग ही अंदाज में कान के रेड कारपेट पर उतरीं। कंगना ने यहां परंपरागत कांजीवरम साड़ी पहनकर हिन्दुस्तानी दस्तकारी व कसीदाकारी की दुनिया के लाखों कैमरों के सामने गजब ब्रांडिंग की। कंगना का लीक से हटकर यूरोपीय सिने उत्सव में साड़ी पहनकर भारतीय बुनकरों को हौंसला देने वाला कदम वाकई काबिले तारीफ है। दुनिया भर में कान हॉलीवुड फिल्मों का एक बहुत बड़ा फिल्म समारोह माना जाता है। दुनिया भर के अभिनेता अभिनेत्री और निर्देशक कान फिल्म समारोह के रेड कारपेट पर हर साल रोशन होते हैं। भारत में कान फिल्म समारोह ऐश्वर्या रॉय के वहां दिखने के बाद से चर्चा में आया था। ऐश्वर्या रॉय हर साल चमक दमक भरे कान फिल्म समारोह में बेमिसाल खूबसूरती के साथ देशी विदेशी अखबारों के पहले पन्नों पर छायी रहती हैं। ऐश्वर्या कान में कुछ इस कदर साल दर साल छायीं कि अब हर साल यह फिल्मी समारोह 2 से 3 दिन तक भारतीय मीडिया की सुर्खियां बनता है। पिछले कुछ सालों से ऐश्वर्या के अलावा भारत की दूसरी अभिनेत्रियों को भी कान में रेड कारपेट पर उतरने के लिए आमंत्रित किया जाता रहा है। प्रियंका चोपड़ा, दीपिका पादुकोण से लेकर सोनम कपूर तक कान फिल्म समारोह में जलवे बिखेर चुकी हैं। बीच में फ्रीडा पिंटो, मल्लिका शेहरावत भी कान में अपने हुस्न को लेकर चर्चित हुई थीं। इन सभी मौकों पर भारतीय अभिनेत्रियां नामी डिजाइनरों के खूबसूरत गाउन पहनकर रेड कारपेट पर उतरीं थीं। लगभग हर बार विदेशी गाउन में भारतीय अभिनेत्रियों ने हॉलीवुड अभिनेत्रियों से टक्कर लेने की हर बार जोरदार कोशिश की है। ऐसे में कंगना रनौत इस बार अपने ही अंदाज में कान फिल्म समारोह की सुर्खी बनीं। साल दर साल ग्लैमरस गाउंस में भारतीय अभिनेत्रियों को हमने कान के रेड कारपेट पर पश्चिमी गाउन पहने सुर्खियां बटोरते देखा है मगर इस बार कंगना ने परिपाटी से अलग दिखकर विदेशी जमीं पर अपना उत्साह और आत्मविश्वास दिखाया। कंगना भारत में मशहूर कांजीवरम साड़ी पहनकर रेड कारपेट पर उतरीं। ऐसा करके उन्होंने भारतीय बुनकरों की कसीदाकारी व दस्तकारी कला को फैशन के इस अंतर्राष्ट्रीय मंच से दुनिया भर को दिखलाया। कंगना का ये कामयाब कदम रहा। जो कान फिल्म फेस्टिवल पहले ऐश्वर्या रॉय को रेड कारपेट पर लाया और फिर ऐश्वर्या के सहारे विदेशी सौन्दर्य प्रसाधन कंपनियों को भारतीयों के करीब लाया उसने इस बार भारत की एक खूबसूरत और बेबाक अभिनेत्री की देशी ब्रांडिंग भी देखी। भारत की परंपरागत साड़ी कान की भव्यता में देश दुनिया की नजरों का केन्द्र बनी। निसंदेह कान फिल्म समारोह फ्रांस की धरती से दुनिया भर के सौन्दर्य प्रसाधन बाजार को भी अपनी अपनी तरह से हवा देता है। भूमंडलीकरण में ये सौन्दर्य को समर्पित फिल्मी समारोह अभिनेत्रियों को मंच देता है तो समानांतर रुप से उन अभिनेत्रियों के जरिए उनके गृह देश में मंच लेता भी है। कान के पहले कितने प्रतिशत भारतीय फ्रेंच कंपनी लॉरियल पेरिस के हेयर कलर और सौन्दर्य सामग्री इस्तेमाल करते थे मगर जब उनकी अपनी पसंदीदा ऐश्वर्या ने कान से आकर जब भारत में लॉरियल को अपनाने को कहा तो करोड़ों भारतीय बालों पर लॉरियल कलर कराने लगे। दरअसल सौन्दर्य बाजार का गणित कुछ है ही ऐसा निराला। यहां एक हाथ से दिया जाता है तो दूजे हाथ से चार गुना वापस लिया भी जाता है। मिस वर्ल्ड और मिस यूनिवर्स कॉटेंस्ट का वो दौर किसे याद नहीं जब दुनिया की सारी की सारी खूबसूरती हर साल केवल भारत में देखी जा रही थी। भारतीय मॉडल्स मिस वर्ल्ड थोक में बन रहीं थीं। आखिर बाकी दुनिया की खूबसूरती उन दिनों कहां चली गई थी। शायद कोई कहीं नहीं गया था। असल में वो भारतीय खूबसूरती जो कॉटेस्ट में लगातार देखी गई थी उसे भारतीय बाजार के कारण इतने इत्मिनान से बार बार हजार बार दुनिया ने देखा था। कान फिल्म समारोह भी फिल्मों से कहीं आगे दुनिया भर का फैशन, मॉडलिंग, सौन्दर्य प्रसाधन सहित खूबसूरती आधारित कारोबार का भव्य मंच है। यहां रेड कारपेट पर खूबसूरती को देखा जाता है तो दुनिया भर में उस खूबसूरती के सहारे खूबसूरती से जुड़ा बाजार भी खड़ा किया जाता है। आज भारतीय बाजार में कान के जरिए तमाम सौन्दर्य कंपनियां बॉलीवुड अभिनेत्रियों के मार्फत पहचान बना चुकी हैं। करोड़ों के उत्पाद भारतीयों की ड्रेसिंग टेबिल पर जगह बना चुके हैं। ऐसे में विदेशी कान फिल्म समारोह में स्वदेशी कंगना रनौत की देशी ब्रांडिंग एक बेबाक और उत्साही फैसला रहा। वे भारतीय बुनकरों की साड़ी पहनकर अगर इस दुनिया के भव्य फिल्मी मंच पर उतरीं हैं तो ये दुनिया के सिने व फैशन जगत के लिए देखने व गौर करने लायक बात रही है। लगातार कई सालों से यूरोपीय गाउन में तो हम सालों साल से भारतीय अदाकाराओं को पश्चिमी अवतार में देख रहे हैं लेकिन इस बार कान में रेड कारपेट भारतीय अंदाज में होता भी दिखा ये एक यादगार बात रही। कंगना ने कान के रेड कारपेट पर कांजीवरम साड़ी पहनकर देश दुनिया में खूब सुर्खियां बटोरीं। वाह कंगना बहुत खूब, कान में कांजीवरम साड़ी पहनकर आपका रेड कारपेट पर उतरना भारतीय पहनावे की ब्रांडिंग करने वाला शानदार कदम रहा।

This post has already been read 158350 times!

Sharing this

Related posts