ईरान ने ब्रिटिश राजदूत को तलब कर प्रदर्शन में शामिल होने का स्पष्टीकरण मांगा

तेहरान। ईरान के विदेश मंत्रालय ने ब्रिटेन के राजदूत रॉब मैकायर को तलब कर उनसे तेहरान में हुए गैर-कानूनी सरकार विरोधी प्रदर्शन में शामिल होने के लिए स्पष्टकरण मांगा है। मैकायर को प्रदर्शन के बाद हिरासत में लिया गया था। जिसके बाद से ब्रिटेन और ईरान में विवाद की शुरुआत हो गई है। राजदूत ने कहा वह 8 जनवरी को यूक्रेन एयरलाइन में मारे गए लोगों के लिए निकाले गए जुलूस में शामिल होने के लिए गए थे। जब प्रदर्शन सरकार के खिलाफ होने लगा तो वह वहां से निकल गए। विदेश मंत्रालय ने रविवार को जारी किए गए एक बयान में कहा रॉब मैकायर को शनिवार को हुई गैरकानूनी रैली में शिरकत कर उनके गैर परंपरागत व्यवहार के चलते तलब किया गया। राजदूत की अस्थाई हिरासत की खबर के खुलासे के बाद उप-विदेश मंत्री अब्बास अर्घची ने प्रतिक्रिया व्यक्त की। उन्होंने कहा गैर-कानूनी रूप से इकट्ठा होने पर एक अज्ञात विदेशी होने के चलते उनको हिरासत में नहीं लिया गया था, बल्कि गिरफ्तार किया गया था। जब पुलिस ने मुझे सूचित किया कि गिरफ्तार हुआ एक व्यक्ति दावा कर रहा है कि वह ब्रिटेन का राजदूत है, तो मैंने कहा यह संभव नहीं हो सकता। उन्होंने आगे कहा जब मेरी उनसे फोन पर बात हुई तो मुझे बहुत आश्चर्य हुआ और मैंने पुष्टि की कि वह राजदूत हैं। इसके 15 मिनट बाद उन्हें छोड़ दिया गया। ब्रिटिश राजदूत ने ट्वीट किया पुष्टि कर सकता हूं कि मैं किसी भी प्रदर्शन में भाग नहीं ले रहा था! मैं वहां पीएस752 त्रासदी में मारे गए पीड़ितों के लिए आयोजित की गई रैली में भाग लेने गया था।

This post has already been read 241 times!

Sharing this

Related posts