लालू प्रसाद की सुरक्षा के नाम पर बेवजह रिम्स पेइंग वार्ड के 19 कमरों को बंद रखन दुःखद: बाबूलाल

रांची : झारखंड में भारतीय जनता पार्टी विधायक दल के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने कहा है कि आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद की सुरक्षा के नाम पर बेवजह रिम्स के पेइंग वार्ड के 19 कमरों को बेवजह बंद कर रखा गया है।
 उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण काल में जब कोविड-19 बेड की कमी हो गयी है, तो फिर अनावश्यक रूप से इन कमरों को बंद रखना समझ से परे है। मरांडी ने शनिवार को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को लिखे पत्र में कहा कि राज्य में जहां एक तरफ एक-एक बेड के लिए इतना त्राहिमाम और घमासान मचा हुआ है, मरीज बेड के लिए परेशान हो रहे हैं और दूसरी तरफ 19 कमरों पर अनावश्यक रूप से बंद रखना समझ से परे है। 
 उन्होंने कहा कि इन 19 कमरों में न्यूनतम 40 मरीजों का तो इलाज हो ही सकता है। आखिर ऐसा किसके शह पर हुआ है। ऐसे में जिस प्रकार की अव्यवस्था व कुव्यवस्था है, उच्च न्यायालय की टिप्पणी व चिंता भी छोटी लग रही है। उच्च न्यायालय को समाज के लोगों के साथ अपने लोगों के भी समुचित इलाज की चिंता वाजिब है। 
 मरांडी ने कहा कि लालू प्रसाद स्वयं काफी संवेदनशील व्यक्ति हैं। हो सकता है कि यह सब   लालू प्रसाद   के संज्ञान में नहीं हो। उन्हेंपूर्ण विश्वास है कि जनता के समक्ष उत्पन्न प्राण संकट की इस घड़ी में उन्हें पता चलेगा कि कुछ लोग उनकी सुरक्षा के नाम पर ऐसी मनमानी कर रहे हैं तो वे इन चीजों को कतई बर्दाश्त नहीं करेंगे। 
उन्होंने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से भी कहा कि संभवतः यह बात उनकी जानकारी में भी नहीं होगा। यह लालफीताशाही और तुष्टिकरण का नतीजा हो सकता है। इसलिए पार्टी इस बात को उनके संज्ञान में ला रही हैं। जिससे  कम-से-कम जहां लोगों की जान बचायी जा सकती है, वहां सुरक्षा के नाम पर तो इस प्रकार का खिलवाड़ नहीं होना चाहिए।   
उन्होंने मुख्यमंत्री से आग्रह किया कि वे  इस पर तत्काल संज्ञान लें और इन कमरों को अविलंब खोलकर मरीजों को उपलब्ध कराने का निर्देश संबंधित विभाग को दें। ताकि कोरोना जैसे भीषण आपदा में राज्य की जनता को कोई असुविधा नहीं हो।
गौरतलब है कि बहुचर्चित चारा घोटाले में चार मामले में सजायाफ्ता लालू प्रसाद को तबीयत बिगड़ने के बाद इलाज के लिए रांची के रिम्स के पेइंग वार्ड में भर्ती कराया गया है। करीब एक दर्जन गंभीर बीमारियों से पीड़ित लालू प्रसाद पिछले कई महीनों से रिम्स के पेइंग वार्ड में भर्ती है।

This post has already been read 934 times!

Sharing this

Related posts