Jharkhand, हाइवा ने चाइना टोली को मारी टक्करएक महिला की मौत,छह लोग घायल

Dumka : जिले के शिकारीपाड़ा थाना क्षेत्र के नांगलभंगा मोड़ के पास पीछे से हाइवा ने चाइना टोली को मारी टक्कर। दुर्घटना में एक महिला की मौत हो गई और एक बच्चा समेत कुल छह लोग घायल हो गए।दुर्घटना शुक्रवार को करीब 11 बजे हुई। मृतक महिला मुनी मरांडी (28), पति शभु मुर्मू थाना क्षेत्र के सरसडंगाल गांव निवासी थी। घायलों में थाना क्षेत्र के 12 वर्षीय बालक कलीराम हांसदा, पिता वकील हांसदा, कुयुम मुर्मू, बहा मरांडी, मुखी मुर्मू, तेलीराम हांसदा और ठकरण मुर्मू है।

और पढ़ें : शोधकर्ताओं का दावा : ज्यादा मूंगफली खाने से कैंसर फैलने का खतरा

जानकारी के अनुसार सभी सवार चाइना वाहन से शिकारीपाड़ा साप्ताहिक हाट आ रहे थे। उसी दौरान पीछे से आ रहे हाइवा ने जोरदार टक्कर मार दी। सूचना पर मौके पर पहुंचे ग्रामीणों की मदद से घायलों को 108 एंबुलेंस एवं पुलिस जीप से उप स्वास्थ्य केंद्र, शिकारीपाड़ा लाया गया। जहां घायलों को प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज अस्पताल, दुमका में भर्ती करवाया गया। यहां इलाज के दौरान मुनी मरांडी की मौत हो गई।

इसे भी देखें : ब्लैक फंगस” लक्षण और निदान बता रहे हैं मेडिका हॉस्पिटल के डॉक्टर अनुज

उल्लेखनीय है कि पुलिस ने सभी घायलों को दुमका ले जाने के लिए एंबुलेंस ड्राइवर से कही लेकिन एंबुलेंस ड्राइवर ने किसी पुलिस की बात नहीं मानी और घायलों को लेकर शिकारीपाड़ा उप स्वास्थ्य केंद्र पहुंच गया। करीब एक डेढ़ घंटा सभी घायल गाड़ी में ही तड़पते रहे। उप स्वास्थ्य केंद्र में सभी प्रक्रिया पूरी करने के बाद सभी घायलों को दुमका भेजा गया। इसमें हुई देरी से महिला मुनी मरांडी की मौत हो गई। सभी घायल सरसडंगाल गांव की रहने वाले हैं। एंबुलेंस चालक यदि पुलिस की बात मान जाता तो सभी घायलों का इलाज तुरंत हो सकता था। इससे आक्रोशित लोगों ने सड़क पर जाम लगा दिया। बाद में पुलिस के समझाने-बुझाने पर करीब डेढ़ घंटे बाद यातायात बहाल किया जा सका।

This post has already been read 1681 times!

Related posts