झारखंड की पहचान यहाँ की कला संस्कृति और खेल से है : हेमन्त सोरेन

लखनऊ : 23वें राष्ट्रीय युवा उत्सव – 2020, में भाग लेने वाले झारखंड के 100 युवा कलाकारों एवं 21 राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवकों ने मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन से मिलकर अनुभव साझा किया।

खेल और खिलाड़ियों को ध्यान में रखकर योजनाएं बनेंगी

झारखंड राज्य के दल ने मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन को बताया कि लखनऊ में द्वितीय स्थान(मार्च पास्ट झांकी) एवं पेंटिंग में तृतीय स्थान मिला है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हम युवाओं, कला संस्कृति और खेल कूद को बढ़ावा देंगे। खेल और खिलाड़ियों को ध्यान में रखकर योजनाएं बनेंगी।

झारखंड में प्रतिभा की कमी नही है आवश्यकता है उन्हें तराशने की

मुख्यमंत्री ने झारखंड राज्य के टीम को बधाई देते हुए कहा कि आपलोगों ने झारखंड राज्य का मान – सम्मान बढ़ाया है। उन्होंने कहा कि झारखंड की पहचान यहाँ की कला , संस्कृति से है, इसे और प्रभावी करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि झारखंड में प्रतिभा की कमी नही है आवश्यकता है ऐसे प्रतिभा को तराशने की। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय युवा उत्सव में आपने अच्छा प्रदर्शन किया है लेकिन और कैसे बेहतर कर सकते है, इस पर कार्य करने की आवश्यकता है।

मिलने वालों में थे

मुख्यमंत्री से मुलाकात कार्यक्रम में राष्ट्रीय युवा उत्सव के टीम लीडर डॉ ब्रजेश कुमार, डिप्टी टीम लीडर डॉ पूनम धान, टीम मैनेजर क्रमशः डॉ विश्वनाथ मुंडा , डॉ ओमप्रकाश पाण्डेय, देवीनाथ टुडू, प्रमिला टुडू, ललित एक्का, जतिन कुमार, अंकित पांडेय, मयूरी गुप्ता, बिपिन कुमार सिंह, आकांक्षा चौधरी, मकसूद, सौरभ सिन्हा, अंजलि पाठक,प्रीति प्रियंका किस्कु, राजेंद्र कुमार सॉ,दीपक राय, दिवाकर, पल्लवी भारती,रवि कुमार, पवन गुप्ता, दीपक गुप्ता आदि सम्मिलित थे।

This post has already been read 2267 times!

Sharing this

Related posts