एचईसी मजदूर संघ के प्रतिनिधिमंडल ने की सांसद से मुलाकात, सौंपा ज्ञापन

रांची। एचईसी मजदूर संघ के प्रतिनिधिमंडल ने अपनी विभिन्न मांगों को लेकर रविवार को रांची के सांसद संजय सेठ से मुलाकात की। संघ के अध्यक्ष जीतू लोहरा और भाजपा नेता विनय जयसवाल के नेतृत्व में पहुंचे प्रतिनिधिमंडल ने एक ज्ञापन भी सौंपा। जिसमें एचईसी की वर्तमान स्थिति, लंबित मांगों और कर्मचारियों की अन्य मांगों से अवगत कराया।

संघ के अध्यक्ष जीतू लोहरा ने कहा कि कारखाने के अंदर महीना भर से मजदूर अपनी मांगों को लेकर नारेबाजी कर रहे हैं। लेकिन प्रबंधन की ओर से कोई ठोस पहल नहीं किया गया। उन्होंने कहा कि अब मजदूरों का अधिकार दिलाने में आपकी अहम भूमिका रहेगी। संघ के महामंत्री रमाशंकर प्रसाद ने सांसद का ध्यान आकृष्ट कराते हुए कहा कि एचईसी की हालात बिगड़ती जा रही है। मजदूरों की वर्षों से मांग अभी तक पूरी नहीं हो सकी है। एचईसी में स्थाई सीएमडी नहीं होने के कारण कोई ठोस निर्णय नहीं लिया जा रहा है।

मौके पर संघ के लोगों ने कहा कि राष्ट्र हित, उद्योग हित और मजदूर हित को ध्यान में रखते हुए एचईसी को परमाणु ऊर्जा में विलय करने के प्रस्ताव को प्राथमिकता देकर प्रधानमंत्री के कार्यालय में लंबित संचिका को आगे बढ़ाने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाने का प्रयास करें। संघ की बातें सुनने के बाद संजय सेठ ने कहा कि एचईसी झारखंड की शान एवं देश की अनमोल धरोहर है। इसे बचाने और बढाने के लिए वे हर संभव प्रयास करेंगे। एचईसी को कई जगहों से वर्कआर्डर दिलाने का भी प्रयास कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि एचईसी प्रबंधन भी मजदूरों की मांग को लेकर जल्द बैठक कर समस्याओं का निराकरण करे, ताकि कारखाने के अंदर मजदूरों द्वारा किया जाने वाला आंदोलन रोका जा सके। साथ ही कारखाने में शांति का माहौल बने। जिससे एचईसी की छवि खराब ना हो।

उन्होंने कहा कि अगले महीने दिल्ली में झारखंड के सभी सांसदों के साथ एचईसी मजदूर संघ की बैठक तय किया गया है। जिसमें एचईसी को लेकर गहन चर्चा की जाएगी। बैठक में निष्कर्ष के बाद दूसरे दिन उद्योग मंत्री से बैठक की जाएगी। इस बैठक में झारखंड के सभी सांसद, भाजपा नेता विनय जायसवाल और एचईसी मजदूर संघ के एक प्रतिनिधिमंडल भाग लेंगे। प्रतिनिधिमंडल में संघ के सुदामा प्रसाद, जीतू लोहरा, रमा शंकर प्रसाद, सरोज कुमार, सुनील कुमार पांडेय, रविकांत, संतोष कुमार सिंह आदि शामिल थे।

This post has already been read 449 times!

Sharing this

Related posts