गार्ड को बंधक बना निर्माणाधीन पवार ग्रिड से लूटे 40 लाख के उपकरण

धनबाद :
शुक्रवार की रात करीब 11.30 बजे से शनिवार के अहले सुबह 4.30 बजे तक हरवे हथियार से लैस करीब एक दर्जन डकैतों ने झारखंड बिजली विभाग के निर्माणाधीन पावर ग्रिड साइट पर करीब 11: 30 से शनिवार सुबह 4:30 बजे तक हरवे हथियार से लैस करीब एक दर्जन डकैतों ने जमकर लूट पाट मचाया। इस दौरान अपराधी यहाँ कर्मियों के लिए बने खाने को भी चट कर गए। शनिवार की सुबह भागते वक्त अपराधी अपने साथ करीब 40 लाख रुपये के उपकरण भी लूट कर ले गए। मामला निरसा के कालूबथान ओपी क्षेत्र स्थित पाथरकुआं का है। बताया जा रहा है कि शुक्रवार की रात करीब 11.30 हरवे हथियार से लैस करीब एक दर्जन अपराधी पाथरकुआं में बन रहे झारखंड बिजली विभाग के निर्माणाधीन पावर ग्रिड साइट में दाखिल हो गए और करीब 5 घंटो तक बड़े ही आराम से अपराधी डकैती की घटना को अंजाम देते रहे। इस दौरान अपराधियों ने सबसे पहले यहां डियूटी पर तैनात फ्लोमोर लिमिटेड के अभियंता बासित अली को अपने कब्जे में लिया। इसके बाद बंदूक के दम पर बाकी के कर्मियो अभियंता श्याम अख्तर, सिक्योरिटी गार्ड सुभाष बनर्जी, मिरनमय बनर्जी और रसोइया प्रदीप मंडल को भी बंधक बना लिया। डकैतों ने इसके बाद लूटपाट की घटना को अंजाम देते हुए पावर ग्रिड के अंदर लगे ट्रांसफार्मर के अंदर का सारा कॉपर निकाल लिया। फिर डकैत स्टोर रूम में प्रवेश कर वहाँ रखे बाकी के इलेक्ट्रिकल उपकरण और कम्प्यूटर पार्ट्स को भी निकाल लिया। डकैत इतने पर ही नहीं रुके। उन्होंने इसके बाद कर्मियों के लिए बनाए गए खाना को बड़े पसंद से खाया। इसके बाद बंधक बनाए गए कर्मियों से 16 हजार रुपये नगद और उनका मोबाइल फोन छीन लिया। और फिर पावर ग्रिड साइट के पीछे की दीवार पर सीढ़ी लगा कर बड़े ही आराम से लूट के सारे सामन को बाहर किया और चलते बने। इसके बाद शनिवार की सुबह कर्मियों ने कंपनी के प्रबंधन और कलुबाथन ओपी को घटना की सूचना दी। इसके बाद प्रभारी प्रदीप राणा दलबल के साथ मौके पर पहुंच मामले की तफ्तीश में जुट गए। 

This post has already been read 1218 times!

Sharing this

Related posts