यादों के झरोखे से : आज ही के दिन डारडेनेल्स जलडमरू मध्य को तैरकर पार करने वाले विश्व के पहले व्यक्ति बने थे मिहिर सेन

नई दिल्ली : भारतीय खेलों के इतिहास में आज का दिन तैराक मिहिर सेन के लिए काफी यादगार है। मिहिर ने आज ही के दिन 12 सितंबर, 1966 को डारडेनेल्स जलडमरू मध्य को तैरकर पार किया। डारडेनेल्स को पार करने वाले वह विश्व के प्रथम व्यक्ति बने।
पांच महाद्वीपों के सातों समुद्रों को तैरकर पार करने वाले मिहिर सेन विश्व के प्रथम व्यक्ति रहे। इसके अलावा मिहिर ने 1955 में इंग्लिश चैनल पार करने का पहला प्रयास किया था। चार साल में आठ बार प्रयास किया, जिसमें वे असफल रहे। सितंबर 1958 को मिहिर ने नौवें प्रयास में इंग्लिश चैनल पार किया था।
इसके अलावा 12 सितंबर 1998 को कुआलालंपुर में 16वें राष्ट्रमंडल खेलों का शुभारम्भ हुआ था। वहीं, 12 सितंबर 2009 को भारतीय महिला टीम विश्व शतरंज चैम्पियनशिप में आख़िरी दौर में अमेरिका को 3-1 से हराकर सातवें स्थान पर रही थी। 

This post has already been read 497 times!

Sharing this

Related posts