‘एकल उपयोग प्लास्टिक’ पर प्रतिबंध का पूर्व पर्यावरण मंत्री जयराम रमेश ने किया विरोध

नई दिल्ली । कांग्रेस के नेतृत्व वाली संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) सरकार में पर्यावरण मंत्री रहे जयराम रमेश ने ‘एकल उपयोग प्लास्टिक’ पर प्रतिबंध लगाने का विरोध किया है। उनका कहना है कि इससे केवल देश और दुनिया में मोदी सरकार की वाहवाही होगी और असलियत छिपी रह जाएगी।

जयराम रमेश ने ट्विटर का प्रयोग करते हुए अपना विरोध जताया और कहा कि पर्यावरण मंत्री रहते हुए उन्होंने एकल उपयोग प्लास्टिक पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने का विरोध किया था। प्लास्टिक उद्योग लाखों को रोजगार मुहैया कराता है। उन्होंने कहा कि असल मुद्दा प्लास्टिक के पुनर्चक्रण और निपटारे से जुड़ा है। उन्होंने कहा कि प्लास्टिक प्रतिबंध देश और दुनिया में केवल हेडलाइन बनेगा। वहीं असल में मोदी सरकार के पर्यावरण संबंधी रिकॉर्ड को ढंक देगा।

उल्लेखनीय है कि मोदी सरकार की योजना एकल उपयोग प्लास्टिक उत्पादों जैसे स्ट्रॉ, कप, कुछ विशेष प्रकार के पॉलीथीन बैग, रैपर इत्यादि के उपयोग पर प्रतिबंध लगाने की योजना है। सोमवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा था कि उनकी सरकार ने घोषणा की है कि भारत आने वाले वर्षों में एकल उपयोग प्लास्टिक को समाप्त कर देगा। उनका मानना है कि अब समय आ गया है कि दुनिया भी प्लास्टिक के इस्तेमाल को अलविदा कहे।

This post has already been read 135 times!

Sharing this

Related posts