जिहादी हमले में पांच नाइजीरियाई सुरक्षाकर्मियों की मौत

कानो। नाइजीरिया के उत्तर पूर्वी बोरनो राज्य में इस्लामिक स्टेट समूह से संबद्ध जिहादियों के तीन अलग-अलग हमले में दो सैनिकों समेत पांच सुरक्षाकर्मियों की मौत हो गई। सूत्रों ने बुधवार को यह जानकारी दी। सेना के एक अधिकारी ने बताया कि ट्रक पर सवार जिहादी समूह इस्लामिक स्टेट वेस्ट अफ्रीका (आईडब्ल्यूएपी) के लड़ाकों ने राज्य की राजधानी मैदुगुरी के पास तुंगुशे गांव में एक सैन्य चौकी पर सोमवार को पहला हमला किया, जिसमें एक सैनिक की मौत हो गई और अन्य घायल हो गया। अधिकारी ने नाम नहीं बताने की शर्त पर कहा, ‘‘आतंकवादियों ने स्थानीय समयानुसार शाम करीब छह बजे गोलीबारी शुरू की जिसमें एक सैनिक की मौत हो गई और अन्य घायल हो गया।

उन्होंने बताया कि घटना में दो आतंकवादियों को भी मार गिराया गया और हथियारों से भरे ट्रक को भी बरामद कर लिया गया। जिहादी रोधी मिलिशिया इब्राहिम लिमान के अनुसार आतंकवादियों ने पास के गाजीगन्ना में सैनिकों को निशाना बनाकर हमला किया जिसमें एक सैनिक की मौत हो गई और हथियार से भरा ट्रक जब्त किया गया। तुंगुशे मैदुगुरी से 22 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है, जिसे आईएसडब्ल्यूएपी और प्रतिद्वंद्वी बोको हराम धड़े के लड़ाके निशाना बनाते रहते हैं।

सोमवार को ही मशीन गन से लैस मोटरसाइकिल और चार ट्रकों में सवार आतंकवादियों ने कैमरून से लगती सीमा के पास रान शहर पर धावा बोला और सैनिकों एवं मिलिशिया ठिकानों पर हमला किया। लिमान ने बताया, ‘‘रान दुर्घटना में हमने अपने तीन साथियों को खो दिया।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमारे लिए राहत की बात यह रही कि इस हमले में आतंकवादियों के कमांडर समेत कई आतंकवादियों को मार गिराया गया और उनका एक ट्रक भी जब्त कर लिया गया।’’ रान उत्तर पूर्व मैदुगुरी से करीब 175 किलोमीटर दूर है, जहां जिहादी हिंसा के कारण विस्थापित करीब 35,000 लोग शरण लिए हुए हैं। मंगलवार को आईएसडब्ल्यएपी ने बयान जारी कर इन तीनों हमलों की जिम्मेदारी ली।

This post has already been read 609 times!

Sharing this

Related posts