अट्ठारह करोड़ की धोखाधडी. तीन साल बाद हुई गिरिफ्तरी

जयपुर : पैसा दुगना करके ठगी करने का मामला बहुत बार सुनने को मिलता है ऐसा ही एक मामला तिन साल पहले का है जिसके मुख्य आरोपी की गिरिफ्तरी अब हुई है. विद्याधर नगर थाना पुलिस ने 18 करोड़ रुपये की धोखाधडी कर फरार हुए दो मुख्य सरगना को गिरफ्तार किया गया है। आरोपितों ने सात सौ लोगों को एक साल में पैसा दुगुना करने का झांसा देकर 18 करोड़ रुपये की ठगी कर फरार हो गए थे और साथ इन दोनों के खिलाफ अन्य कई राज्यों में भी ठगी के मामले दर्ज है। फिलहाल आरोपितों से पूछताछ की जा रही है।

इसे भी देखे : झारखंड में हादसों का दिन रहा शुक्रवार, छह की मौत, 30 घायल…

थानाधिकारी वीरेन्द्र कुरील ने बताया कि लोगों को पैसा दुगुना करने का झांसा देकर 18 करोड़ रुपये की ठगी करने वाले मुख्य शातिर ठग अनिल वामन भैरे निवासी ठाणे महाराष्ट्र और और सुभाष रामचंद्र मांडवकर निवासी रत्नागिरी महाराष्ट्र को गिरफ्तार किया है। आरोपितों ने स्वयं की कंपनी खोल रखी थी। जहां इन ठगों ने 2019 में सात सौ लोगों को एक साल में पैसा दोगुना करने का झांसा दिया और उनसे करीब 18 करोड़ रुपये की ठगी की और फिर कंपनी बंद कर फरार हो गए। जिसके बाद से दोनों आरोपित पुलिस ने बचने लिए अपना नाम और स्थान बदल कर रह रहे थे। पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर कार्रवाई करते हुए पिछले तीन साल से फरार चल रहे इन ठगों को धरदबोचा।

advt.

This post has already been read 5361 times!

Related posts