प्रशासनिक व पारंपरिक व्यवस्था का उचित समायोजन कर विकास कार्य करें: अर्जुन मुंडा

खूंटी । जनजातीय मामलों के केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने कहा कि प्रशासनिक व पारंपरिक व्यवस्था का उचित समायोजन कर विकास कार्य करें। उन्होंने कहा कि प्राथमिकता के आधार पर योजनाओं का चयन करें और उनका कार्यान्वयन करायें। मंत्री गुरूवार को मुंडा समाहरणालय सभागार में जिला विकास समन्वय एवं अनुश्रवण समिति(दिशा) की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। बैठक में जिले में चल रही विभिन्न योजनाओं के क्रियान्वयन पर विस्तार से चर्चा की गयी। साथ ही पूर्व की बैठक के अनुपालन के संबंध विचार- विमर्श किया गया।

बैठक में केंद्रीय मंत्री ने दिशा के उद्देश्य व त्रिस्तरीय व्यवस्था के बारे में सभी सदस्यों को विस्तार से जानकारी दी। जिले में चल रही विभिन्न योजनाओं के क्रियान्वयन पर चर्चा करते हुए उन्होंने निर्देश दिया कि अगली बैठक में कार्य योजनाओं का रोड मैप तैयार करें, ताकि विभिन्न इलाकों में जो भी आवश्यकता होगी, उसका गैप एनालिसिस किया जा सके। उन्होंने कहा कि मूल रूप से विभिन्न विभागों के बीच बेहतर समन्वय से कार्य करने के बाद ही योजनाओं को सफल किया जा सकता है।

मौके पर उपायुक्त द्वारा विकास कार्यों की प्रगति की जानकारी दी गई। साथ ही बैठक में विभिन्न योजनाओं के तहत जिले में हुए विकास कार्यों पर विस्तार से जानकारी साझा की गई। मौके पर खूंटी के विधायक नीलकंठ सिंह मुंडा, तोरपा विधायक कोचे मुंडा, तमाड़ के विधायक विकास मुंडा, नगर पंचायत अध्यक्ष अर्जुन पाहन, उपाध्यक्ष रखी कष्यप, सभी प्रखंडों के प्रमुख व अन्य जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

This post has already been read 289 times!

Sharing this

Related posts