CM के निर्देश के बाद भी अवैध उत्खनन पर नहीं लगी रोक, बदस्तूर जारी, मंगलवार को अवैध उत्खनन के दौरान चाल धंसने से दो लोगों की मौत

धनबाद। निरसा क्षेत्र में बंद कोलियरियों से बड़े पैमाने पर कोयला की चोरी की जाती है। अवैध उत्खनन के दौरान चाल धंसने की घटनाएं होती रहती हैं। मंगलवार को अहले सुुुबह निरसा थाना क्षेत्र के ईसीएल की चापापुर आउटसोर्सिंग के 10 नंबर खदान में अवैध उत्खनन के दौरान चाल धंसने से दो लोगों की मौत हो गयी है। वहीं इस घटना में कुछ लोग घायल भी हो गये।केस न हो, इसलिए शवों को लेकर कोयला चोर भाग गए।

बताया जाता है कि उत्खनन के दौरान चाल धंस गयी और उसमें दबकर दो लोगों की मौत हो गयी। घटना के बाद कोयला चोर दोनों शवों को लेकर फरार हो गये। हालांकि निरसा पुलिस इस घटना से इंकार कर रही है। जबकि स्थानीय लोगों का कहना है कि मंगलवार की सुबह अवैध उत्खनन के दौरान हादसा हुआ। और हादसे के तुरंत बाद कोयला चोर शवों को लेकर फरार हो गये। जबकि घायलों का उपचार विभिन्न निजी क्लीनिकों में करवाया जा रहा है।

CM के निर्देश के बाद भी अवैध उत्खनन पर नहीं लगी रोक, बदस्तूर जारी

हाल ही में सुुबे के CM हेेेेमंत सोरेेेन ने धनबाद डीसी और धनबाद पुुुलिस को फटकार लगााते हुुुए निर्देश दिया है कि कोयला तस्करी, भ्रष्टाचार किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं है। इसके बाद धनबाद DC अमित कुमार ने बीसीसीएल, ईसीएल व सीआईएसफ के अधिकारियों के साथ बैठक कर जिले में अवैध खनन पर रोक लगाने का निर्देश दिया था। बैठक में डीसी और एसएसपी ने अवैध खनन रोकने के लिए कई उपाय भी अधिकारियों को सुझाये थे। निर्देश के बाद भी अवैध उत्खनन पर रोक नहीं लगी है। जिला भर में कोयला तस्करी, अवैैैध खनन बदस्तूर जारी है।

चोरी के कोयले की भट्ठों में की जा रही है खपत

चापापुर ओसीपी के समीप स्थित कुसुमकानाली, रामकानाली, गोपालगंज, आमडांगाल आदि गांवों के लोग प्रतिदिन चापापुर ओसीपी में उतर अवैध कोयले का उत्खनन कर उसे अपने गांव में स्टॉक करते हैं। उसे रात के अंधेरे में मिनी-हाइवा में लोड किया जाता है। मिनी-हाइवा सोनबाद के रास्ते से वगैर रोकटोक गोविंदपुर पहुंच जाता है। इस गोरखधंधे में गोविंदपुर के कोयला चोरो का भी अहम् भूमिका है। ग्रामीण सुनसान सड़क का लाभ उठाकर गोविंदपुर के कोयला चोर चापापुर ओसीपी के कोयले को गोविंदपुर के विभिन्न भट्ठों में खपाते हैं।

25 दिसंबर को भी हादसे में गई थी दो शख्स की जान

इससे पहले निरसा की चापापुर कोलियरी की 10 नंबर चालू ओसीपी में 25 दिसंबर 2019 की देर रात अवैध उत्खनन के दौरान ऊपर से पत्थरों का मलबा गिरने से नीचे कोयला काट रहे गोपालगंज निवासी 36 वर्षीय गुंडा योगी की मौत मौके पर ही हो गई। वहीं रामकनाली निवासी एक व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गए। रात के अंधेरे में कोयला काट रहे अन्य मजदूर अौर उसके परिजन पत्थर के मलबे से शव को निकाल भाग गए। ग्रामीणों का कहना था कि घायल शख्स की भी दूसरे दिन की सुबह मौत हो गई। वह रामकनाली गांव का रहनेवाला था।

18 दिसंबर की सुबह चाल धंसने से एक व्यक्ति कि मौत

इससे पहले 18 दिसंबर की सुबह निरसा थाना क्षेत्र की हड़ियाजाम कोलियरी के बंद 2 व 3 नंबर भूमिगत खदान के अवैध उत्खन स्थल में कोयला काटते के दौरान चाल धंसने से सिंहपुर गांव निवासी एक व्यक्ति कि मौत हो गयी थी, जबकि एक अन्य मजदूर घायल हो गया था। गोरतलब हो कि चाल धंसने के बाद कोयला शवों को लेकर तुरंत फरार हो जाते हैं। ऐसे कम मामले ही देखने को मिलते हैं जिसमें पुलिस शवों को बरामद कर पाती है। कोयला चोर केस होने के डर से आनन-फानन में शवों का अंतिम संस्कार कर देते हैं

This post has already been read 129 times!

Sharing this

Related posts