Deoghar : शहर में तेजी से बढ़ रही है कोरोना संक्रमितों की संख्या

देवघर : देवघर शहर के सर्वाधिक घनी आबादी वाले मुहल्ले लोकनाथ लेन में एक ही परिवार के आठ लोगों को कोरोना पॉजिटिव पाए जाने से शहर वासियों में भय का माहौल व्याप्त हो गया है। ज्ञात हो कि शिक्षा सभा चौक, नर्सिंग टॉकीज के पास स्थित लोकनाथ लेन सर्वाधिक घनी आबादी वाला मुहल्ला है। ऐसे में एक ही परिवार से आठ लोगों के कोरोना पॉजिटिव मिलने से पूरा जिला प्रशासन सकते में आ गया है, और एहतियातन सभी जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं। 
स्वास्थ्य विभाग द्वारा उक्त परिवार के संपर्क में आये लोगों का पता करके जाँच के लिए स्वाब संग्रहित कर रहा है। जबकि डीसी नैंसी सहाय लोगों से सुरक्षात्मक अपील कर रही हैं। एनडीआरफ द्वारा उक्त मुहल्ले सहित आस-पास के सभी मुहल्लों को सेनेटाइज़्ड किया जा रहा है। तो दूसरी ओर ध्वनि विस्तारक यंत्रों के माध्यम से जागरूकता के भी प्रयास किये जा रहे हैं।
उल्लेखनीय है कि एक ओर शहरी मुख्यालय में कोरोना पोजिटिवों की संख्या बढ़ रही है वहीं दूसरी ओर जिले के सारठ प्रखण्ड में एक कोरोना पॉजिटिव के आईसोलेशन सेंटर से निकल कर घर जाकर रहने की घटना भी प्रतिवेदित हुई है। जिस कारण उक्त संक्रमित मरीज के  संपर्क में आये 39 लोगों का स्वाब संग्रहित किया गया है।  जिसकी जांच कराई जा रही है। 
इस मामले में अनुमंडल पदाधिकारी, मधुपुर द्वारा चिकित्सा पदाधिकारी, प्रखण्ड विकास पदाधिकारी एवं थाना प्रभारी से कारण पृच्छा जारी कर जबाब देने का निर्देश दिया है कि आखिर कोरोना संक्रमित मरीज कैसे अपने घर जाकर रह रहा था। प्रासंगिक है कि विश्व के 200 देशों में जहां कोरोना महामारी अपना विकराल स्वरूप लिए तांडव मचा रहा है। वहीं जिले के सारठ में ऐसी चूक जो किसी से बड़े हादसे से कम नहीं है । इसका जिम्मेवार कौन है?मालूम हो कि इस समय देवघर में कुल मरीजों की संख्या 57 है।  जिनमें से 44 लोग स्वस्थ्य होकर घर जा चुके हैं। वहीं वर्तमान में 15 एक्टिव केस हैं। ऐसे में बैकलॉग जाँच रिपोर्ट एवं सम्पर्क में लोगों के कराए जा रहे स्वाब कलेक्शन के कारण स्थिति और बदतर होने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है। 

This post has already been read 1479 times!

Sharing this

Related posts