महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन की मांग, सुप्रीम कोर्ट का सुनवाई से इनकार

नई दिल्ली : सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र में कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए राष्ट्रपति शासन लागू करने और उद्धव ठाकरे को मुख्यमंत्री पद से हटाने की की मांग करने वाली याचिका पर सुनवाई करने से इनकार कर दिया है। चीफ जस्टिस एसए बोब्डे की अध्यक्षता वाली बेंच ने याचिकाकर्ता से कहा कि एक नागरिक के तौर पर आप अपनी बात राष्ट्रपति के समक्ष रख सकते हैं।

यह याचिका दिल्ली के तीन नागरिकों ने दायर की थी। चीफ जस्टिस ने याचिकाकर्ता से कहा कि आप कह रहे हैं कि कुछ बॉलीवुड अभिनेताओं की मृत्यु हो गई, राज्य में संवैधानिक नियम का पालन नहीं किया जा रहा है। आपने सिर्फ मुंबई की घटनाओं का ज़िक्र किया है। आपको पता है महाराष्ट्र कितना बड़ा है। कोर्ट ने कहा कि एक एक्टर की मौत का मतलब ये नहीं है कि राज्य में कानून-व्यवस्था फेल हो गई है।

This post has already been read 398 times!

Sharing this

Related posts