Ramgarh,48 घंटे से लापता युवक का शव बरामद,परिजनों ने हत्या का आरोप दोस्तों पर लगाया

Jharkhand : रामगढ़ शहर में 48 घंटे से लापता एक युवक की लाश एक कुएं से बरामद हुई है ,मूर्रामकला टायर मोड़ के पास। मृतक की पहचान शहर के गुढ़ियारी बाग निवासी सपन चक्रवर्ती के पुत्र सुमित चक्रवर्ती के रूप में हुई है। इस प्रकरण में सफल चक्रवर्ती ने सुमित के दो दोस्तों पर हत्या का आरोप लगाया है। इनमें विकास नगर निवासी गुंजन और नवीन शामिल हैं। इस संबंध में रामगढ़ एसपी प्रभात कुमार ने बताया कि सुमित चक्रवर्ती की संदिग्ध अवस्था में मौत हुई है। परिजनों ने हत्या का आरोप भी लगाया है। लेकिन पूरे मामले में अभी जांच चल रही है।

और पढ़ें : अगर अचानक बिल्ली रास्ता काट दे तो क्या होगा? जानिए वैज्ञानिक क्या कहते हैं इसके बारे में

जन्माष्टमी के दिन दोस्तों के साथ रात में निकला था सुमित

सुमित चक्रवर्ती के पिता सपन चक्रवर्ती ने रामगढ़ थाने में बुधवार को एक लिखित शिकायत भी दी है। इसमें उन्होंने कहा है कि जन्माष्टमी की रात विकास नगर निवासी गुंजन और नवीन उनके घर आए थे। उनके बुलावे पर ही सुमित घर से निकला और अपनी बाइक से कहीं चला गया। रात में देर होने पर परिजनों द्वारा सुमित को फोन किया गया। इस दौरान सुमित ने उन्हें यह बताया कि वह गुंजन और नवीन के साथ ही है। रात में सुमित का मोबाइल बंद हो गया, तो फिर परिजनों ने समझा कि वह अपने दोस्तों के साथ ही सो गया होगा। लेकिन लाश मिलने के बाद परिजनों ने कहा कि नवीन और गुंजन के द्वारा ही साजिश के तहत उनके बेटे की हत्या की गई है। और लाश छुपाने के लिए कुएं में डाल दिया गया है।

गुमशुदगी की अर्जी लेकर थाने पहुंचे, तो थानेदार बन गए ज्योतिषाचार्य

अपने जिगर के टुकड़े की गुमशदगी का अर्जी लेकर पहुंचे पिता को थाना में थाना प्रभारी नहीं, एक ज्योतिषाचार्य मिल गया। अर्जी सुन ज्योतिषी ने कहा कि आप आराम से घर जाइए, आपका बेटा मौज कर रहा है। मैं अपने दिमाग से काम करता हूं, मैं ज्योतिष हूं। यह खबर पढ़ने या सुनने में भले ही अटपटा लग रहा हो। लेकिन यही सच्चाई है। सबसे हद की बात तो यह है कि ज्योतिषी कोई और नहीं खुद रामगढ़ थाना प्रभारी सुशील कुमार ही है। उन्होंने युवक के पिता से यही बात बोलकर थाना से बाहर का रास्ता दिखा दिया। इसके बाद वे मायूस होकर अपने घर चले गए और बेटे की तलाश में यहां-वहां भटकने लगे।

इसे भी देखें : आदिवासी युवक को वाहन से घसीट कर मारने वाले के खिलाफ पुलिस ने की कार्रवाई

गुस्साए परिजनों ने किया सड़क जाम

सुमित चक्रवर्ती पेशे से मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव था। इसकी लाश एक कुएं से बरामद हुई। शव मिलने की खबर पूरे शहर में जंगल मे लगी आग की तरह फैल गई। सुमित मूल रूप से गोला का रहने वाला है। वर्तमान में अपने परिजनों के साथ शहर के गुढ़ियारी बाग में किराए के मकान में रहता था। वह एक दवा कंपनी में एमआर के रूप में कार्यरत था। शव मिलने के बाद परिजनों ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए सड़क जाम कर दिया।

क्या है मामला

सुमीत चक्रवर्ती पिछले दो दिनों से लापता था। उसके दो एमआर साथी गुंजन व नवीन के साथ वह रविवार की देर रात तक टायर मोड़ स्थित लाइन होटल में पार्टी मनाया। उसी रात से सुमित गायब था। परिजनों ने उसके दोनों दोस्तो पर शंका व्यक्त किया है। साथ जी उसकी गिरफ्तारी की मांग पुलिस से की है।

एसडीपीओ के अश्वासन पर सड़क जाम हटा

घटना की सूचना पाकर एसडीपीओ किशोर कुमार रजक व थाना प्रभारी इंस्पेक्टर सुशील कुमार सहित अन्य थाने के अन्य पुलिस अधिकारी घटनास्थल पहुंचे। सड़क जाम करने वाले लोगों को समझाया। एसडीपीओ ने आश्वासन दिया कि मामले की जांच होगी। दोनों युवकों को पुलिस हर हार में गिरफ़्तार करेगी। एसडीपीओ के आश्वासन के बाद जाम को हटा लिया। पुलिस ने शव को कब्जे में कर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया।

This post has already been read 54422 times!

Related posts