श्री अग्रसेन स्कूल में गणेश उत्सव पर बच्चों ने पेश की भगवान गणेश की झांकी

श्री अग्रसेन स्कूल, भुरकुंडा में शुक्रवार को ऑनलाइन तरीके से गणेश चतुर्थी मनाया गया। इसकी शुरुआत बच्चों व शिक्षकों ने गणेश वंदना से की। इसके बाद बच्चों को गणेश लीला के बारे में बताया गया। साथ ही बच्चों को गणेश कुबेर दोनों के जीवन के बारे में बताया गया।

इस मौके पर बच्चों ने गणपति बप्पा मौर्या के नारे लगाए। आकृति कुमारी, रणवीत कौर, विहान सिंह, आकृति कुमारी, पीहू कुमारी आदि ने भगवान श्री गणेश से सम्बन्धित झांकी प्रस्तुत कर उनकी लीलाओं को जीवंत कर दिया।

इसे भी देखे : गणेश चतुर्थी पर इन पांच खास मंदिरों में जरूर जाए मन्नत होगी पूरी

इस अवसर पर विद्यालय की प्राचार्या नीलकमल सिन्हा ने बच्चों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि इस तरह के सांस्कृतिक आयोजनों का मुख्य उद्देश्य बच्चों को अपने देश की संस्कृति, सभ्यता तथा परंपरा से पूर्ण रूप से अवगत कराना है। उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया कि इस तकनीक तथा प्रौद्यौगिकी के युग में भी अपनी परंपरा को जीवित रखना हमारा परम धर्म है। महोत्सव की संयोजिका अंकिता सिंह ने बच्चों को बताया कि हिंदू धर्म में गणेश चतुर्थी का विशेष महत्व है। गणेश उत्सव भाद्रपद शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि से शुरू होता है और अनंत चतुर्दशी तक मनाया जाता है। जिसे गणेश विसर्जन भी कहते हैं।

आयोजन के उपरांत झांकी व पेंटिंग में शानदार प्रदर्शन करने वाले बच्चों के नाम की घोषणा की गयी। इन्हें विद्यालय द्वारा पुरस्कृत किया जाएगा। आयोजन को सफल बनाने में रीता राय, रितु शरण, सोनम खातून, नाजरीन परवीन, उषा कुमारी, वंदना सिंह, प्रोन्नति मुखर्जी आदि का योगदान रहा।

This post has already been read 15718 times!

Related posts