मुख्यमंत्री रघुवर को अपने गढ़ में मिली पहली कड़ी चुनौती

रांची । विधानसभा चुनाव का सबसे हॉट सीट जमशेदपुर पूर्वी हो गया है। यहां से झारखंड के सीएम रघुवर दास और उनके मंत्रिमंडल में रह चुके मंत्री सरयू राय आमने-सामने हैं। कांग्रेस ने भी अपने प्रवक्ता गौरव बल्लभ को यहां से चुनावी मैदान में उतार दिया है।

 बागी मंत्री सरयू राय के निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव मैदान में उतरने के कारण जमशेदपुर पूर्वी विधानसभा को झारखंड का सबसे हॉट और चर्चित सीट बना गया है। उनके मैदान में आने से वर्ष 1995 से लगातार पांच चुनावों में एकतरफा जीत हासिल करने वाले रघुवर दास के सामने पहली बार कड़ी चुनौती पेश आई है।

इस सीट पर भाजपा की ओर से मुख्यमंत्री रघुवर दास के समर्थन में उत्साहित समर्थक घर घर जाकर मुख्यमंत्री को भारी मतों से विजय बनाने का आह्वान कर रहें हैं । समर्थकों का मानना है कि डबल इंजन की सरकार की वजह से झारखंड विकास के पथ पर तेजी से दौड़ सका है। इसकी गति और बढ़ाने के लिए फिर भाजपा की झारखंड में सरकार जरूरी है। जमशेदपुर पूर्वी विधानसभा क्षेत्र में चुनावी जंग में रोचकता आ गई है। चुनाव चिह्न के रूप में गैस सिलेंडर मिलते ही पार्टी से बगावत कर क्षेत्रीय विधायक सरयू राय मुख्यमंत्री रघुवर दास के खिलाफ निर्दलीय उम्मीदवार बन ताल  ठोंक  रहे  है।

उधर कांग्रेस की ओर से उनके राष्ट्रीय प्रवक्ता गौरव बल्लभ भी मुकाबले को त्रिकोणीय बनाने का प्रयास कर रहें हैं। क्षेत्र के मतदाताओं का मानना है कि इलाके में विकास के कई काम हुए है, लेकिन शिक्षा के क्षेत्र में और काम किये जाने की ज़रूरत है। भाजपा का केंद्रीय नेतृत्व सरयू राय के बगावती तेवर पर नज़र बनाए हुए है। पार्टी को उम्मीद है  कि फिर से भाजपा पूर्ण बहुमत की सरकार बनायेगी। 

This post has already been read 744 times!

Sharing this

Related posts