घाघरा नदी के बाढ़ में नाव पलटी, पांच की मौत

मुख्यमंत्री ने पीड़ित परिवार को मुआवजे का किया ऐलान

मऊ : मधुबन तहसील के चक्की मुसाडोही गांव के पास बुधवार की शाम को एक नाव  घाघरा नदी में बेकाबू होकर पलट गयी। नाव में सवार सभी लोग डूब गए। कुछ लोगों को स्थानीय लोगों ने बचा लिया। इस नाव हादसे में पांच लोगों की मौत हो गयी,जबकि एक बच्ची लापता है। इस घटना पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वरिष्ठ अधिकारियों को तत्काल मौक़े पर पहुंचने के निर्देश दिए है। साथ ही मृतक के परिजनों को चार-चार लाख रुपये देने का ऐलान किया है।

पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य़ ने बताया कि घाघरा नदी का जलस्तर इतना बढ़ गया कि चक्कीमुसाडोही गांव के घरोंं में पानी भर गया। इसी वजह से गांव में रहने वाले अ​रविन्द अपनी मां के साथ तीन बच्चे, राजेश अपनी बेटी और सीताराम अपनी पत्नी को लेकर बुधवार की शाम को अपने गांव से छोटी नाव से तेलियाकलां बाढ़ राहत शिविर जा रहे थे। अचानक तेज बहाव के चलते नाव पलट गई, जिसमें सवार सभी लोग डूब गये। यह देखकर ग्रामीणों ने किसी तरह से नदी में डूबे तीन लोगों को बचा लिया। इस हादसे में दो महिला समेत तीन बच्चों की मौत हो गयी है। मृतकों में राम चन्द्र की पत्नी सविता (48 वर्ष), सीताराम की पत्नी सविता (40 वर्ष), अरिवन्द के पुत्र करन (10 वर्ष), किशन  (07 वर्ष), अर्जुन  (03 वर्ष) है। राजेश की बेटी खुशी लापता है, जिसकी तलाश की जा रही है।

This post has already been read 737 times!

Sharing this

Related posts