बिकरु कांड : वायरल ऑडियो और वीडियो बयां कर रहे विकास दुबे का रुतबा

कानपुर ग्रामीणों को तो छोड़िये पुलिस कर्मी से लेकर दारोगा तक करते थे ‘जी हुजूरी’सीओ समेत आठ पुलिस कर्मियों को मौत की नींद सुलाने वाला हिस्ट्रीशीटर व पांच लाख का इनामी विकास दुबे भले ही एसटीएफ की मुठभेड़ में मारा गया हो पर अभी भी बहुत से राज खुलना बाकी है। वहीं दूसरी ओर इन दिनों लगातार ऑडियो और वीडियो वायरल हो रहे हैं, जिससे पता चलता है कि विकास का रुतबा गांव में ही पुलिस से लेकर राजनेताओं में भी जबरदस्त था। पुलिस कर्मी जब उससे बात करते थे ‘जी हुजूर’ के अलावा शब्द नहीं निकलते थे। यही नहीं उसके पास जाने से भी पुलिस तो दूर दारोगा भी हिम्मत नहीं जुटा पाते थे। 
चौबेपुर थाना क्षेत्र के बिकरु गांव में हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे अपने गुर्गों के साथ दो जुलाई की रात अधाधुंध फायरिंग कर सीओ समेत आठ पुलिस कर्मियों की हत्या कर दी थी। इस घटना के बाद पुलिस ने भी विकास सहित छह गुर्गों को मार गिराया, पर अभी भी विकास के कई गुर्गे फरार चल रहे हैं। पहली बार विकास एण्ड कंपनी के खिलाफ हो रही पुलिस की सख्त कार्रवाई को देख लोग पुलिस की सहायता के लिए वीडियो व ऑडियो वारयल कर रहे हैं। इन ऑडियो व वीडियो से पुलिस को काफी मदद मिल रही है और पता चल रहा है कि किस कदर विकास दुबे का गांव ही नहीं दूर-दराज तक उसका रुतबा कायम था। एक वीडियो में देखा गया कि एक दारोगा को विकास पास बुलाता है और वह उसके पास जाने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहा है, जिस पर विकास कहता है डरो नहीं आओ। इसी तरह एक और ऑडियो सामने आया है जिस पर विकास शुद्ध हिन्दी में शहीद सीओ को गाली-गलौज कर रहा है और उधर से पुलिस कर्मी हर बात पर जी-जी कर रहा है। यह ऑडियो घटना के रात्रि से पहले दिन का है जब राहुल तिवारी के मामले में विकास दुबे पर सीओ देवन्द्र मिश्रा के निर्देश पर चौबेपुर थाना में मुकदमा दर्ज हुआ था। 
ऑडियो के मुताबिक चौबेपुर थाना का सिपाही रोहित चौधरी विकास दुबे से बात कर रहा है। इस वायरल ऑडियो में विकास दुबे ने सिपाही को बड़ा कांड करने की धमकी दी थी। वह कह रहा है कि भले ही अब जीवन भर जेल में काटना पड़े या फिर जिंदगी भर फरारी करनी पड़े, पर यह सीओ तो विकास दुबे का शिकार होगा। चाहे पुलिस की जीप को उड़ाना पड़े, मैं बड़ा कांड करूंगा। वह कह रहा है कि बिकरू में इतना बड़ा कांड होगा कि लोग इसको याद करेंगे। विकास ऑडियो में गाली पर गाली देता जा रहा है और सिपाही के मुंह से सिर्फ ‘जी ही’ निकल रहा है। 
एक और वीडियो वायरल हो रहा है जो उस समय का है जब राज्य मंत्री संतोष शुक्ला हत्याकांड में वह बरी हुआ था। वीडियो में उसके समर्थक स्वागत करते हुए नारे लगा रहे हैं कि ‘शेर हमारा छूट गया जेल का ताला टूट’ गया। इन सब ऑडियो और वीडियो से साफ पता चलता है कि विकास दुबे का रुतबा जबरदस्त था और उसकी पकड़ बहुत ऊपर तक थी। इसी के चलते आज भी गांव वाले पुलिस वालों के सामने उसके खिलाफ कुछ भी बोलने से कतराते हैं। हालांकि विकास के मारे जाने के बाद कुछ लोग पुलिस को जानकारियां देकर मदद भी कर रहे हैं और इसी के चलते बराबर ऑडियो व वीडियो वायरल भी हो रहे हैं। इन ऑडियो व वीडियो से पुलिस को बड़ी सहायता मिल रही है और विकास के राज को पूरी तरह से खत्म करने के लिए पुलिस मुस्तैदी से जुटी हुई है। पुलिस को जिस प्रकार से सबूत पर सबूत मिलते जा रहे हैं उससे माना जा रहा है कि विकास एण्ड कंपनी का खात्मा पूरी तरह से हो जाएगा। 

This post has already been read 2758 times!

Sharing this

Related posts