आईपीएल: चेन्नई और मुम्बई के बीच आज होगी खिताबी जंग

नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें संस्करण का खिताबी मुकाबला आज, रविवार को चेन्नई सुपरकिंग्स और मुम्बई इंडियंस के बीच खेला जाएगा। मुकाबला शाम साढ़े सात बजे से हैदराबाद के राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम में खेला जाएगा। 

आईपीएल के इतिहास में यह चौथा मौका होगा जब ये दोनों टीमें खिताबी मुकाबले में आमने-सामने होंगी। पहली बार दोनों टीमें 2010 में आईपीएल फाइनल में भिड़ी थीं। इस मुकाबले में चेन्नई ने मुम्बई को हराकर पहली बार आईपीएल ट्रॉफी जीती थी। इसके बाद दोनों टीमें 2013 और 2015 के फाइनल में खेलीं और दोनों बार मुम्बई ने आईपीएल ट्रॉफी जीती। दोनों टीमें तीन-तीन बार खिताब जीत चुकी हैं। अब 2019 के फाइनल में जीतने वाली टीम आईपीएल इतिहास में चार बार खिताब जीतने वाली पहली टीम बन जाएगी। 
इस सत्र देखा जाए तो चेन्नई को तीन बार मुम्बई से हार का सामना करना पड़ा है, जिसके चलते उसे फाइनल मुकाबला जीतने के लिए कुछ ना कुछ करिश्माई जरूर करना होगा। टीम की सबसे बड़ी ताकत कप्तान महेंद्र सिंह धोनी हैं। टीम को रिकॉर्ड 8वीं बार फाइनल में ले जाने वाले धोनी ने इस सत्र 11 पारियों में 103.50 के शानदार औसत और 137.54 के स्ट्राइक रेट से 414 रन बनाए हैं। इसके अलावा टीम की सलामी जोड़ी शेन वॉटसन और फाफ डु प्लेसिस के पास काफी अनुभव है। मध्य क्रम में सुरेश रैना और अंबति रायडू ने कई मौकों पर टीम के लिए रन बनाए हैं। स्पिन गेंदबाजी चेन्नई की ताकत हैं। इमरान ताहिर, हरभजन सिंह और रविंद्र जडेजा काफी विकेट ले रहे हैं। तेज गेंदबाज दीपक चाहर ने काफी प्रभावित किया है, उन्होंने अभी तक 19 विकेट चटकाए हैं। इसके अलावा ड्वेन ब्रावो टीम के लिए कई मौकों पर तुरुप का इक्का साबित हुए हैं।

बात करे मुम्बई की तो टीम के बल्लेबाज और गेंदबाज दोनों ही जबर्दस्त प्रदर्शन कर रहे हैं। बल्लेबाजी में क्विंटन डीकॉक, कप्तान रोहित शर्मा, सूर्यकुमार यादव, हार्दिक पांड्या, किरोन पोलार्ड रन बना रहे हैं। इस सत्र टीम की एक अलग ताकत आखिरी ओवर में बहुत तेजी से रन बटोरना रही है और इसमें हार्दिक पांड्या ने बड़ा किरदार निभाया है। हार्दिक को पोलार्ड का भी अच्छा साथ मिला है। गेंदबाजी में उसके पास दो ऐसे गेंदबाज है जो डेथ ओवरों में रन बनाना मुश्किल कर देते हैं। जसप्रीत बुमराह और लसिथ मलिंगा की जोड़ी चेन्नई के लिए खतरनाक साबित हो सकती है। गेंदबाजी में मुंबई छोटा स्कोर का बचाव करने में भी सक्षम है। 

Sharing this

Related posts