सहायक डाक अधीक्षक ने रामगढ़ थाने में दर्ज कराई प्राथमिकी

रामगढ़। रामगढ़ के उप डाकपाल शशि भूषण पासवान ने सरकारी खजाने से 8 लाख का गबन कर लिया है। इस मामले में सहायक डाक अधीक्षक कुणाल प्रियदर्शी ने  थाने मेंप्राथमिकी दर्ज कराई है। बुधवार को रामगढ़ थाने में दिए गए आवेदन में सहायक डाक अधीक्षक कुणाल प्रियदर्शी ने बताया कि उनके द्वारा रामगढ़ कोर्ट परिसर स्थित उप डाकघर में निरीक्षण किया गया था। इस निरीक्षण के दौरान सरकारी खजाने में 7 लाख 87 हजार 958 रुपया कम पाया गया। यह रुपया नगदी और स्टांप का खर्च मिलाकर था।

इस मामले में डाक विभाग के वरीय पदाधिकारियों के द्वारा भी जांच की गई, तो पता चला कि बड़कीपोना गांव निवासी शशि भूषण पासवान के द्वारा यह गबन किया गया है। यह 20 मई 2015 से डाक विभाग में कार्यरत थे। इनके द्वारा  उप डाकघर में उप डाकपाल के पद पर कार्य करने के दौरान इस मोटी रकम को खाते में जमा नहीं किया गया।

इस बारे में उन्हें पहले भी विभाग के द्वारा नोटिस किया गया था। उन्हें यह कहा गया था कि इस रकम को 15 दिनों के अंदर जमा करा दें, लेकिन उन्होंने सरकारी खजाने में यह रकम जमा नहीं कराई। गबन के आरोप में उन्हें विभाग के द्वारा निलंबित कर दिया गया था। फिलहाल इस पूरे मामले में अब  पुलिस ने अपनी कार्रवाई प्रारंभ कर दी है। उन्होंने उप डाकपाल शशि भूषण पासवान के खिलाफ आईपीसी की धारा 409 के तहत प्राथमिकी दर्ज की है। 

This post has already been read 417 times!

Sharing this

Related posts