लीबिया में दीर्घकालिक संघर्षविराम की अपील की

संयुक्त राष्ट्र । संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने एक प्रस्ताव पारित किया है जिसमें युद्धग्रस्त लीबिया में ‘दीर्घकालिक संघर्षविराम’ की अपील की गई है। हालांकि जनवरी से यहां युद्धविराम की व्यवस्था चल रही है जो खास प्रभावी नहीं है।

यह प्रस्ताव ब्रिटेन ने तैयार किया है। इसे 15 में से 14 मतों के साथ मंजूरी मिली। इससे रूस गैरहाजिर रहा। लीबिया को लेकर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मतभेद बहुत गहरे हैं। हालांकि विश्व नेताओं के बीच हाल में इस बात पर सहमति बनी है कि देश में सभी विदेशी हस्तक्षेप खत्म किए जाएंगे और हथियारों पर प्रतिबंध का पालन किया जाएगा।

इस प्रस्ताव में पुष्टि की गई कि लीबिया में जल्द से जल्द दीर्घकालिक संघर्षविराम की जरूरत, वह भी बिना किसी पूर्व शर्त के। इसमें, लीबिया में दूसरे देशों के सैनिकों के बढ़ते दखल पर भी चिंता जाहिर की गई। रूस ने ‘दूसरे देश के सैनिकों’ के स्थान पर ‘विदेशी आतंकवादी लड़ाके’ शब्द रखने पर जोर दिया था। संघर्षविराम पर 12 जनवरी पर सहमति बनी थी, उसके बावजूद यहां लगभग हर रोज झड़पें हो रही हैं।

This post has already been read 2417 times!

Sharing this

Related posts