Bhopal : आनंदीबेन पटेल ने मध्यप्रदेश के कार्यवाहक राज्यपाल का पद संभाला

भोपाल। उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने बुधवार शाम को मध्य प्रदेश के कार्यवाहक राज्यपाल के रूप में शपथ ग्रहण की। मप्र राज्य उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश एके मित्तल ने राजभवन के सभागार में आयोजित संक्षिप्त एवं गरिमामय समारोह में उन्हें पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। इस अवसर पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैस ने किया। बता दें कि मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन का स्वास्थ्य खराब होने के चलते राष्ट्रपति द्वारा उ.प्र. की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को मध्यप्रदेश का अतिरिक्त प्रभार सौंपा है। आनंदीबेन पटेल बुधवार को दोपहर बाद विशेष विमान से भोपाल पहुंचीं और राजभवन में शाम साढ़े चार बजे संक्षिप्त समारोह में उन्होंने मध्य प्रदेश के कार्यवाहक राज्यपाल पद की शपथ ली। गुजरात की मुख्यमंत्री रहीं आनंदी बेन 15 अगस्त 2018 से 28 जुलाई तक छत्तीसगढ़ की राज्यपाल रहीं। इसी दौरान वे 23 जनवरी 2018 से 28 जुलाई 2019 तक मध्यप्रदेश की राज्यपाल रहीं। इसके बाद 29 जुलाई 2019 वे उत्तरप्रदेश की राज्यपाल हैं।

गुरुवार को होगा शिवराज मंत्रिमंडल का विस्तार
मध्य प्रदेश का बहुतप्रतीक्षित मंत्रिमंडल का विस्तार गुरुवार, 02 जुलाई को होना तय माना जा रहा है। स्वयं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को मीडिया से बातचीत में इसकी घोषणा की है। कार्यवाहक राज्यपाल बनने के बाद आनंदीबेन पटेल नये मंत्रियों को शपथ दिलाएंगी। भाजपा सूत्रों के मुताबिक दूसरे विस्तार में लगभग 25 मंत्री शपथ ले सकते हैं। फिलहाल कैबिनेट में सीएम सहित छह मंत्री हैं। मप्र में कुल 35 मंत्रियों को कैबिनेट में रखा जा सकता है। 

सिंधिया भी आ सकते हैं भोपाल
मंत्रिमंडल विस्तार के समय राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया भी  कार्यक्रम में शामिल होने आ सकते हैं। पहले वे 30 जून को ही भोपाल आने वाले थे, लेकिन मंत्रिमंडल विस्तार का कार्यक्रम टलने के बाद उन्होंने दिल्ली से भोपाल आना रद्द कर दिया था। इस विस्तार में ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थक कुछ चेहरों शामिल होना पक्का माना जा रहा है।

This post has already been read 13206 times!

Sharing this

Related posts