अनिवार्य कोविड वैक्सीन पासपोर्ट से अमेरिका का इनकार

वाशिंगटन : अमेरिका ने अनिवार्य कोविड-19 वैक्सीन पासपोर्ट की संभावना से इनकार किया है। उसने कहा कि नागरिकों की गोपनीयता और अधिकार को सुरक्षित किया जाना चाहिए। दुनिया भर में इस तरह के पासपोर्ट की योजना को टाल दिया गया है, जो इस महामारी से लड़ने और सुरक्षित आवागमन में सहायक हो सकता है।

कोविड पासपोर्ट के आलोचकों का कहना है कि इस तरह के डाक्युमेंट भेदभावपूर्ण हैं। अमेरिका ने भी कहा कि अमेरिकन नागरिकों को अनिवार्य रूप से इस तरह के कागज रखने वाली इस व्यवस्था का वह समर्थन नहीं करता।

जोनस हॉपकिंस युनिवर्सिटी के अनुसार अमेरिका में कोविड से 5 लाख, 50 हजार से अधिक लोगों की  मौत और करीब 3.1 करोड़ (31 मिलियन) लोग संक्रमित हो चुके हैं।

 मीडिया को संबोधित करते हुए व्हाइट हाउस की सचिव जेन पास्की ने कहा कि टीकाकरण का कोई आंकड़ा या सभी को एकल टीकाकरण क्रेडेंशियल संबंधी कोई शासनादेश नहीं है। उन्होंने कहा कि सरकार अभी या आगे भी अमेरिकन नागरिक को इस तरह के कागजात रखने का समर्थन  नहीं करती है।  सरकार के संघीय ढांचे के अनुसार अमेरिकी नागरिक की निजता और अधिकार को सरकार सुरक्षित रखेगी और इसलिए ऐसा कोई कदम नहीं उठाएगी जो उनके लिए गलत हो।

कई देश तथाकथित वैक्सीन पासपोर्ट की तरफ देख रहे हैं, जिसका उपयोग भीड़ भाड़ वाले क्षेत्र और सफर के दौरान  उपयोग किया जा सकता है।

This post has already been read 794 times!

Sharing this

Related posts