जगन्नाथ महतो के फेफड़ा बदले जाने के बाद शरीर में दिख रहा बदलाव, पांडेय बाबा ने मिलकर दी यह नसीहत

चेन्नई स्थित एमजीएम अस्पताल में जगरनाथ महतो के साथ रवींद्र पांडेय।

झारखंड : रवींद्र पांडेय ने अस्पताल में महतो से मुलाकात करने के बाद चिकित्सकों से भी बात की। डॉ. अपार जिंदल की देखरेख में महतो का इलाज चल रहा है। पांडेय ने बताया कि महतो की स्थिति ठीक है। चिकित्सकों के अनुसार अगले एक सप्ताह में अस्पताल से छुट्टी मिल सकती है।

धनबाद
झारखंड के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो के स्वास्थ्य में लगातार सुधार हो रहा है। चेन्नई के एमजीएम अस्पताल में 10 नवंबर, 2020 को ऑपरेशन कर महतो का फेफड़ा ट्रांसप्लांट किया गया। इसके बाद से वह एमजीएम में ही भर्ती हैं। ऑपरेशन के दो महीने के बाद स्वास्थ्य में काफी सुधार हुआ है। डॉक्टर अस्पताल से रिलीज करने पर विचार कर रहे हैं। अगर सबकुछ ठीक-ठाक रहा तो वह एक पखवारा में झारखंड आ सकते हैं। इस बीच महतो के राजनीतिक प्रतिद्वंदी गिरिडीह के पूर्व सांसद रवींद्र पांडेय ने अस्पताल में जाकर मुलाकात की है। पांडेय ने महतो को दीर्घायु का आशीर्वाद किया है।

चेन्नई स्थित एमजीएम हॉस्पिटल में झारखंड के मा० शिक्षा मंत्री जगन्नाथ महतो से मुलाकात कर उनका कुशलक्षेम पूछा, स्वास्थ्य की जानकारी लिया तथा ईश्वर से उन्हें जल्द स्वस्थ्य होने की कामना किया। मेरे साथ बी.एम.एस. महामंत्री श्री रविंद्र मिश्रा भी मंत्री जी से मुलाकात किए।

कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद शिक्षा मंत्री का फेफड़ा हुआ डैमेज

झारखंड के शिक्षा मंत्री डुमरी के विधायक जगरनाथ महतो कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए थे। इससे उनका फेफड़ा डैमेज हो गया। राजधानी रांची के मेडिका अस्पताल में इलाज चल रहा था। स्थित में सुधार नहीं हो रही थी। इस दाैरान जान पर बन आई। उन्हें बचाने के लिए आनन-फानन में 19 अक्टूबर, 2020 को एयर एंबुलेंस से चेन्नई के एमजीएम अस्पताल में शिफ्ट किया गया। महतो के इलाज का खर्च झारखंड सरकार उठा रही है। ऑपरेशन के बाद महतो के स्वास्थ्य में सुधार तो हो रहा है लेकिन शरीर में बदलाव भी हुआ है। वजन काफी बढ़ गया है। इसे दवा और ऑपरेशन का असर बताया जा रहा है।

महतो और पांडेय राजनीतिक प्रतिद्वंदी

झारखंड के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो और गिरिडीह के पूर्व सांसद रवींद्र पांडेय राजनीतिक प्रतिद्वंदी रहे हैं। महतो जहां झारखंड मुक्ति मोर्चा की राजनीति करते हैं तो पांडेय भारतीय जनता पार्टी की। गिरिडीह लोकसभा क्षेत्र का पांडेय ने 6 बार प्रतिनिधित्व किया है। 2014 के लोकसभा चुनाव में पांडेय का जगरनाथ महतो से मुकाबला था। थोड़े मतों के अंतर से महतो चूक गए थे।

चिकित्सकों से मुलाकात कर पांडेय ने ली जानकारी

पांडेय ने अस्पताल में महतो से मुलाकात करने के बाद चिकित्सकों से भी बात की। डॉ. अपार जिंदल की देखरेख में महतो का इलाज चल रहा है। पांडेय ने बताया कि महतो की स्थिति ठीक है। चिकित्सकों के अनुसार अगले एक सप्ताह में अस्पताल से छुट्टी मिल सकती है। हालांकि पांडेय ने महतो को सलाह दी कि वह अभी एक पखवारा तक अस्पताल में भी स्वास्थ्य लाभ करें। साथ ही यह भी कहा कि अस्पताल से झारखंड लाैटने के बाद राजधानी रांची में ही कुछ दिनों तक रहें। बोकारो में काफी प्रदूषण है। वहां रहेंगे तो स्वास्थ्य प्रभावित हो सकता है। महतो का घर बोकारो जिले में है।

This post has already been read 394 times!

Sharing this

Related posts